ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News झारखंड हज़ारीब़ागमतदान के बाद ईवीएम की सुरक्षा पर जिला प्रशासन का अब सबसे ज्यादा फोकस

मतदान के बाद ईवीएम की सुरक्षा पर जिला प्रशासन का अब सबसे ज्यादा फोकस

स्ट्रांग रूम की ट्रिपल लेयर सुरक्षा, लाइव मॉनिटरिंग, 24 घंटे की हो रही है पहरेदारी, बाजार समिति परिसर में नाइट विजन कैमरे के साथ लगाए गए हैं दर्जनों...

मतदान के बाद ईवीएम की सुरक्षा पर जिला प्रशासन का अब सबसे ज्यादा फोकस
हिन्दुस्तान टीम,हजारीबागTue, 21 May 2024 05:45 PM
ऐप पर पढ़ें

शांतिपूर्ण मतदान के बाद ईवीएम की सुरक्षा पर जिला प्रशासन का अब सबसे ज्यादा फोकस
स्ट्रांग रूम की ट्रिपल लेयर सुरक्षा

लाइव मॉनिटरिंग, 24 घंटे की हो रही है पहरेदारी

बाजार समिति परिसर में नाइट विजन कैमरे के साथ लगाए गए हैं दर्जनो सीसीटीवी कैमरे

हजारीबाग हमारे प्रतिनिधि

हजारीबाग संसदीय क्षेत्र में 20 मई को मतदान के बाद ईवीएम की सुरक्षा पर अब जिला प्रशासन ने अपना ध्यान फोकस कर लिया है। बाजार समिति स्थित स्ट्रांग रूम में ट्रिपल लेबल की सुरक्षा में ईवीएम को रखे गए हैं। स्ट्रांग रूम के सुरक्षा की लाइव मॉनिटरिंग की जा रही है। बाजार समिति के चारों ओर दर्जनों सीसीटीवी कैमरे लगाए गए हैं।इसमें हाई क्वालिटी के नाईट विजन के कैमरे भी शामिल है। इसे टेलीविजन सेट से जोड़ कर पल पल सुरक्षा का जायजा लिया जा रहा है। ईवीएम रखें गए स्ट्रांग रूम की 24 घंटे की सुरक्षा प्रदान की गई है। सोमवार को निर्धारित समय पांच बजे तक मतदान के बाद बाजार समिति में बनाए गए वजगृह में मतदान कर्मियों का ईवीएम के साथ पहुंचने का सिलसिला शुरू हो गया। शाम छह बजे से शहर व आसपास के मतदान कर्मी पहुंचने लगे ‌समय बढ़ने के साथ मतदान कर्मियों और सुरक्षा कर्मियों की भीड़ बढ़ती गई चली गई। हजारीबाग लोकसभा के पांचो विधानसभा क्षेत्र के लिए अलग-अलग काउंटर बनाए गए थे। काउंटर पर सभी प्रपत्रों की जांच की जा रही थी। ताकि रिपोर्ट में कोई कमी नहीं रह जाए। वहीं हजारीबाग सदर, मांडू, बड़कागांव, बरही, बरकट्ठा विधानसभा क्षेत्र के निर्वाची पदाधिकारी लगातार मॉनिटरिंग कर रहे थे। इसी बीच रात 10 बजे आंधी तूफान के साथ वारिश शुरू हो गयी। इससे बाजार समिति परिसर में अफरातफरी मच गई। मतदान कर्मी पानी से भीगते से ईवीएम और अन्य दस्तावेजों को बचाने भागते नजर आए। आधे घंटे तक मतदान कर्मी और पीठासीन पदाधिकारी परेशान रहे। जिला निर्वाचन पदाधिकारी सह डीसी नैंसी सहाय, एसपी अरविंद कुमार सिंह, डीडीसी प्रेरणा दीक्षित, सदर एसडीओ शैलेश कुमार की मौजूदगी मे ईवीएम जमा करने का कार्य चलता रहा। रात एक बजे तक डीसी, एसपी बाजार समिति में जमे रहे। सोमवार को रामगढ़ जिले से ईवीएम के आने का सिलसिला अपराह्न एक बजे तक चलता रहा। डीसी, एसपी,सदर एसडीओ, पांचों विधानसभा के प्रेक्षक ईवीएम जमा करने के समय मौजूद रहे। ईवीएम और वीवीपैड जमा होने के बाद रक्षक को और राजनीतिक दल के प्रत्याशियों के प्रतिनिधियों के मौजूदगी में स्ट्रांग रूम को सील कर दिया गया। स्ट्रांग रूम के बाहर कड़ी सुरक्षा कर दी गई है। सुरक्षा इस कदर कड़ी कर दी गई है कि परिंदा भी एंट्री नहीं कर सके। स्ट्रांग रूम के आसपास तीन लेयर की सुरक्षा व्यवस्था की गई है। स्ट्रांग रूम के चारों ओर कई लेयर पर कांटेदार तार से घेरावा कर दिया गया है। पहले लेयर में केंद्रीय सुरक्षा बल सीआरपीएफ के के जवानों को तैनात किया गया है। वहीं दूसरे लेयर में सुरक्षा के लिए झारखंड आर्म्स फोर्स को तैनात किया गया है। वहीं तीसरे लेयर में जिला बल के अधिकारी व जवान तैनात किए गए हैं। ईवीएम जमा करने के बाद पीठासीन पदाधिकारी, मतदान कर्मी और सुरक्षाकर्मी अपने-अपने घर के लिए रवाना हो गए। वहीं जिला प्रशासन के अधिकारियों ने भी राहत की सांस ली।

फोटो बाजार समिति

बाजार समिति में इवीएम की सुरक्षा में तैनात जवान

यह हिन्दुस्तान अखबार की ऑटेमेटेड न्यूज फीड है, इसे लाइव हिन्दुस्तान की टीम ने संपादित नहीं किया है।