DA Image
हिंदी न्यूज़ › झारखंड › 300 लीटर कच्चा ्प्रिरट के साथ पुलिस ने एक को दबोचा
गिरडीह

300 लीटर कच्चा ्प्रिरट के साथ पुलिस ने एक को दबोचा

हिन्दुस्तान टीम,गिरडीहPublished By: Newswrap
Wed, 01 Sep 2021 05:10 AM
रेम्बा। हीरोडीह पुलिस ने सोमवार की रात 300 लीटर कच्चा ्प्रिरट तथा एक सौ खाली बोतल के साथ एक व्यक्ति को गिरफ्तार किया। पुलिस ने आवश्यक कागजी...
1 / 2रेम्बा। हीरोडीह पुलिस ने सोमवार की रात 300 लीटर कच्चा ्प्रिरट तथा एक सौ खाली बोतल के साथ एक व्यक्ति को गिरफ्तार किया। पुलिस ने आवश्यक कागजी...
रेम्बा। हीरोडीह पुलिस ने सोमवार की रात 300 लीटर कच्चा ्प्रिरट तथा एक सौ खाली बोतल के साथ एक व्यक्ति को गिरफ्तार किया। पुलिस ने आवश्यक कागजी...
2 / 2रेम्बा। हीरोडीह पुलिस ने सोमवार की रात 300 लीटर कच्चा ्प्रिरट तथा एक सौ खाली बोतल के साथ एक व्यक्ति को गिरफ्तार किया। पुलिस ने आवश्यक कागजी...

रेम्बा। हीरोडीह पुलिस ने सोमवार की रात 300 लीटर कच्चा ्प्रिरट तथा एक सौ खाली बोतल के साथ एक व्यक्ति को गिरफ्तार किया। पुलिस ने आवश्यक कागजी खानापूर्ति कर मंगलवार को गिरिडीह जेल भेज दिया। पुलिस को गुप्त सूचना मिली की कि छोटी मालवाहक गाड़ी में सैकड़ों लीटर कच्चा ्प्रिरट रेम्बा-भंडारो मार्ग में पड़नेवाले पलाश के जंगल में लोड कर देवघर भेजने की योजना है। सूचना पर थाना प्रभारी राधेश्याम पांडेय ने जमुआ-कोडरमा मार्ग में रेम्बा मोड़ के पास वाहन निरीक्षण करना शुरू कर दिया। गुप्त सूचना सही निकली और मेघा एक्सेल मालवाहक वाहन जेएच 15टी-2286 में लदे 300 लीटर कच्चा ्प्रिरट तथा एक सौ खाली शीशी बरामद की गई। कच्चा ्प्रिरट प्लास्टिक के जार में रखा गया। मौके पर पुलिस ने दिलखुश अंसारी-पिता रशीद अंसारी को गिरफ्तार किया। गिरफ्तार दिलखुश ने बताया कि वह देवघर के जसीडीह थाने के रोहिणी का रहनेवाला है। पुलिस ने केस दर्ज कर दिलखुश अंसारी को जेल भेज दिया। अवैध शराब कारोबारियों में हड़कंप: पुलिस की कार्रवाई के पश्चात कच्चा ्प्रिरट से नकली शराब बनानेवाले कारोबारियों में हड़कंप मचा है। बता दें कि रेम्बा, मल्हो व नेरो के आसपास पलाश के जंगलों में नकली अंग्रेजी शराब बनाने का गोरखधंधा कई माह से चलने की चर्चा जोर-शोर से है। अवैध शराब कारोबारियों को बख्श नहीं जाएगा: थाना प्रभारी राधेश्याम पांडे ने बताया कि पूरे मामले की जांच की जा रही है। दोषी लोगों को किसी भी कीमत में बख्शा नहीं जाएगा। जांच के पश्चात पता चल पाएगा कि कच्चे ्प्रिरट से अवैध शराब बनाने के कारोबार में और कौन-कौन शामिल हैं।

संबंधित खबरें