DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मोटू-पतलू, स्पिनर, टैंक की पिचकारियों की है मांग

रंगों का त्योहार होली को लेकर बाजार पूरी तरह सज गया है। बाजारों में पारम्परिक व हर्बल रंग, गुलाल उपलब्ध है। वहीं एक से बढ़कर एक बच्चों को आकर्षित करने वाली फैंसी और कॉर्टून वाली पिचकारियों से दुकानें सजने लगी हैं। इस बार मोटू -पतलू, स्पिनर, टैंक के अलावा बाहुबली, कटप्पा, मोदी पिचकारी की काफी डिमांड है। मार्केट में तरह-तरह के मुखौटे, टोपियां, रबर, प्लास्टिक के मास्क भी काफी आकर्षित कर रहे हैं। सभी वस्तुओं की तरह ही होली के रंगों व पिचकारियों पर भी महंगाई का रंग चढ़ा हुआ है। इंडियन सामान चाइना की तुलना में ज्यादा बिक रहे हैं। बच्चों को भा रही फैंसी पिचकारियां : किसी भी त्योहार में कितनी भी महंगाई बढ़ जाए। लेकिन लोग त्योहारों में खरीदारी के लिए किसी तरह की सुस्ती नहीं करते हैं। वे अपने हर त्योहार को धूमधाम से मनाना चाहते हैं। पिचकारियां महंगी होने के बावजूद बच्चों में धीरे-धीरे मांग बढ़ रही है। फैंसी और अनेक तरह की कॉर्टून पिचकारियां बच्चों को अपनी ओर आकर्षित कर रही हैं। बच्चे पारंपरिक पिचकारियों की बजाय खिलौने व कार्टून पिचकारियों की डिमांड अधिक कर रहे हैं। बाजार में पिचकारियां 40 रुपए से लेकर 500 रुपए तक चल रही हैं। इसमें अभी स्पिनर, टैंक, मोटू-पतलू की अधिक डिमांड है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Motu-Paltu, Spinner, Tank's Pichkari's Demand