Former Minister of Labor s Non-Cooperation Movement - मजदूरों के असहयोग आंदोलन में पहुंचे पूर्व मंत्री DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मजदूरों के असहयोग आंदोलन में पहुंचे पूर्व मंत्री

मधुबन स्थित सम्मेदाचल विकास कमेटी में कार्यरत मजदूरों के असहयोग आंदोलन के 13वें दिन झामुमो नेता मथुरा महतो धरनास्थल पर आवाज बुलंद की। मथुरा महतो ने संस्था के कामगारों की मांगों को जायज बताते हुए अपनी बात रखी तथा मजदूरों की समस्या जैसे गंभीर मामले को विधानसभा में रखने की बात कही।

बता दें कि सम्मेदाचल विकास कमेटी के दर्जनों मजदूर संस्था की मनमानी के खिलाफ झामुमो के बैनर तले चरणबद्ध आंदोलन करते हुए असहयोग आंदोलन पर उतर आया है। हमेशा से विवादों में रहनेवाला सम्मेदाचल विकास कमेटी कार्यरत मजदूरों की वेतन कटौती कर मनमानी का परिचय दिया है। कामगारों के लाख प्रयास के बाद भी संस्था के प्रबंधन अपने इरादे पर अडिग है। संस्था के अड़ियल रवैये से आजीज आकर मजदूर झामुमो के बैनर तले आन्दोलरत हैं। चरणबद्ध तरीके से आंदोलन करते हुए संस्था के मजदूर 21 अक्तूबर से असहयोग आंदोलन पर हैं। शनिवार को मजदूरों के असहयोग आंदोलन के समर्थन में झामुमो के नेता मथुरा महतो सम्मेदाचल विकास कमेटी के मुख्य द्वार पर घंटों बैठें। मजदूरों ने बारी बारी से अपनी समस्या सुनाई। झामुमो नेता मथुरा महतो ने कहा कि सम्मेदाचल विकास कमेटी के मजदूरों की मांगें जायज है। वेतन कटौती का कोई औचित्य नहीं बनता है।

झामुमो मजदूरों के आंदोलन पर कंधे से कंधे मिलाकर साथ है। संस्था के खिलाफ आंदोलन और धारदार बनाया जायेगा। नेता प्रतिपक्ष हेमन्त सोरेन नजर बनाए हुए हैं। कहा कि भाजपा सरकार के तानाशाह रवैये से संस्था को लाभ मिल रहा है। तानाशाह रवैये के खिलाफ संघर्ष किया जाएगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Former Minister of Labor s Non-Cooperation Movement