अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

ग्रामीणों ने बताईं अफसरों को समस्याएं

ग्रामीणों ने बताईं अफसरों को समस्याएं

समाहरणालय स्थित अपने कक्ष में अपर समाहत्र्ता अनिल कुमार तिर्की के द्वारा जनता दरबार का आयोजन किया गया। जनता दरबार में कुल मिलाकर 40 आवेदन प्राप्त हुए। प्राप्त आवेदनों मेंे सहिया बहाली के संबंध में, पोषण सखी बहाली में अनियमितता, जमीन संबंधी विवाद के संबंध में, अतिक्रमण, स्थानातंरण, प्रधानमंत्री आवास, इंदिरा आवास, भू-राजस्व, भू-अधिग्रहण, वृद्घा पेंशन, विधवा पेंशन, बिकलांग पेंशन नही मिलने के संबंध में, डंगाल टोली से भेंड़िया नदी तक अतिक्रमण के संबंध में, मापी/सीमांकन के संबंध में, शौचालय निर्माण हेतु सरकार के द्वारा दी जाने वाली सहायता राशि भुगतान करने के संबंध में, प्रधानमंत्री क्षति पूर्ति आवास एवं रोजगार संबंधित समस्याओं को सुना गया। भू-राजस्व संबंधित मामलों एवं भू-अधिग्रहित संबंधित विवाद को उसके संबंधित विभाग को सौंप दिया गया। वृद्घा पेंशन के निदान के लिए समाजिक सुरक्षा एवं अंचल कार्यालय भेज दिया गया। जिले से आए सुदूर ग्रामीण क्षेत्रों में से हीरालाल महतो, दिनेश कुमार, अरूणा देवी, सिकन्दर कापरी, सोनिया देवी, उमेश यादव, अशोक मंडल, कार्तिक मिस्त्री, विनय कुमार यादव, संजु देवी, गुलाब मुर्मू, तुलसी देवी, धरमो पहाड़ीन, निताय राय, नकुल सिंह, सुनील मंडल, शंभुनाथ साह, पैरू मंडल, सुकुमार साह, सुषमा देवी, शकिना खातून, एवं अन्य उपस्थित थे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:villagers told the problems of the officers