DA Image
23 सितम्बर, 2020|3:03|IST

अगली स्टोरी

बगैर मैदान समतलीकरण के 36 हजार रुपए की फर्जी निकासी

default image

रंका प्रखंड के अंतर्गत विश्रामपुर पंचायत में कैथोलिक आश्रम का मैदान का बगैर समतलीकरण का अवैध निकासी का मामला प्रकाश में आया है। योजना मद में फर्जी तरीके से 36 हजार 472 रुपए की निकासी कर ली गई।कैथोलिक आश्रम के फादर के केरकेट्टा ने बताया कि दो महीने पहले पंचायत के मुखिया सुधीर कुजूर और उनके साथ दो लोग उनके आश्रम में आए हुए थे। उन लोगों ने बताया कि ग्राउंड का समतलीकरण करवाने को लेकर योजना के बारे में जानकारी दी थी। उस दौरान कहा गया कि उनका ग्राउंड ठीक है। उसके समतल करने की जरूरत नहीं है। ग्राउंड की चहारदीवारी की आवश्यकता है। अगर योजना ही देना है तो चहारदीवारी करवा दीजिए। ग्राउंड के चहारदीवारी के नाम पर उसका खाता प्लॉट की मांग की गई। उन्हें खाता प्लॉट के बारे में बता दिया गया। उसके बाद उन लोगों ने कभी उनके पास इस संबंध में कोई चर्चा नहीं की। दो दिन पहले नेट पर जानकारी मिली कि कैथोलिक आश्रम विश्रामपुर के मैदान निर्माण के नाम पर 36 हजार 472 रुपए की निकासी की गई है। उन्होंने बताया कि मैदान समतलीकरण का न तो काम हुआ न ही चहारदीवारी का काम। बगैर काम किए राशि की निकासी कर ली गई। नेट से जब मास्टर रोल निकाला तो उन मजदूरों का नाम अंकित पाया गया जिन्हें मजदूरी का भुगतान दिखाया गया है।

उक्त लोगों ने भी योजनामद में काम करने से इंकार कर दिया है। पंचायत के मजदूर लक्ष्मण यादव, विमला देवी, रामदेव भुइयां, सोनी देवी, महावीर सिंह, भुनेश्वर सिंह, सरिता देवी, दिनेश भुईयां, मनोज भुइयां, मुकेश भुइयां का 10-10 दिन का काम दिखाया गया है। उन्हें प्रतिदिन 194 रुपए बतौर मजदूरी भुगतान भी दिखाया गया है। उन्हें कथित तौर पर उक्त भुगतान 21 जुलाई 2020 को किया गया है। उक्त संबंध में प्रखंड विकास पदाधिकारी संतोष कुमार ने बताया कि मामले की जानकारी नहीं है। योजना की जांच कराकर दोषियों पर कार्रवाई की जाएगी। मामले में मुखिया सुधीर कुजूर से संपर्क करने का प्रयास किया गया पर बात नहीं हो सकी।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Fake withdrawal of 36 thousand rupees without ground leveling