ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News झारखंड गुमलाडीसी ने की 16 विभागों के योजनाओं की समीक्षा

डीसी ने की 16 विभागों के योजनाओं की समीक्षा

कल्याणकारी योजनाओं के लाभ जरूरमंदो समय पर देनी ही प्रशासनिक महकमा का लक्ष्य :डीसी कल्याणकारी योजनाओं के लाभ जरूरमंदो समय पर देनी ही प्रशासनिक महकमा...

डीसी ने की 16 विभागों के योजनाओं की समीक्षा
हिन्दुस्तान टीम,गुमलाWed, 19 Jun 2024 11:30 PM
ऐप पर पढ़ें

गुमला प्रतिनिधि। डीसी कर्ण सत्यार्थी की अध्यक्षता में बुधवार को समाहरणालय के सभाकक्ष में जिला समन्वय समिति की बैठक आयोजित हुई। डीडीसी,एसी,एसडीओ व तमाम बीडीओं-सीओं की मौजूदगी वाली अहम बैठक में डीसी ने सभी विभागों द्वारा संचालित योजनाओं की प्रगति-उपलब्धि को खंगाला। और तयशुदा प्रावधान के तहत ससमय स्कीम को पूरा करने के निर्देश दिये। डीसी ने अधिकारियों से कहा कि कल्याणकारी योजनाओं के लाभुक-लाभार्थियों को समय पर लाभान्वित कराना ही प्रशासनिक महकमा का लक्ष्य है। जिला मुख्यालय से लेकर प्रखंड तक समन्वय के साथ योजनाओं के संचालन से ही लक्ष्य का हासिल किया जा सकता है। हेल्थ सेक्टर के समीक्षा के क्रम में डीसी ने शत प्रतिशत लाभुकों को आयुष्मान कार्ड से कवर-अप करने का निर्देश दिया। गर्भवती महिला के जांच व संस्थागत प्रसव सुनिश्चित करने को कहा। 15-29जून तक संचालित आयुष्मान पखवाड़े में अबतक छुटे हुये अहर्ताधारी लोगों को आयुष्मान कार्ड उपलब्ध कराने को कहा। साथ ही 30 नंवबर तक सिकल सेल एनीमिया की शत प्रतिशत जांच सुनिश्चित करने के निर्देश दिये। अधिकारियों को भी नियमित रूप से शिविर की निगरानी-मॉनिटरिंग करने के साथ गांव-गंवई के लोगों से संवाद स्थापित करने के निर्देश दिये। पंचायत स्तर पर दवा दुकानों के लाइसेंस बनाने का निर्देश दिया। इसी कड़ी में कल्याण विभाग को मातृ वंदना योजना के प्रचार-प्रसार व सावित्रि बाई फूले किशोरी समृद्धि योजना के तहत शत प्रतिशत बच्चों को लाभान्वित करने का निर्देश दिया। आंगनबाड़ी केंद्रो में बिजली,पानी व शौचालय की सुविधा बहाल करने की दिशा में विशेष ध्यान देने को कहा। निर्माणाधीन हॉस्पीटल,हॉस्टल,छात्रवृति सहित अन्य कल्याणकारी योजनाओं में पूरी संजीदगी के साथ जमीनी स्तर पर वर्कआउट के निर्देश दिये। इसके अलावा बैठक में शिक्षा, सामाजिक सुरक्षा कोषांग, उद्यान, प्रधानमंत्री आवास योजना, ग्रामीण अबुआ आवास योजना, मनरेगा, कृषि, पंचायती राज, ग्रामीण विकास, पीएचडी, योजना, सहित 16 विभागों के विभागीय योजनाओं में प्रगति की समीक्षा करते हुए सभी विभागीय पदाधिकारियों से तेजी लाने का निर्देश दिया गया।

यह हिन्दुस्तान अखबार की ऑटेमेटेड न्यूज फीड है, इसे लाइव हिन्दुस्तान की टीम ने संपादित नहीं किया है।