ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News झारखंड गुमलाचैनपुर के कतारी कोना में आंगनबाड़ी केंद्र 3 महीने से बंद

चैनपुर के कतारी कोना में आंगनबाड़ी केंद्र 3 महीने से बंद

कतारी कोना में विलुप्त प्राय आदिम जनजाति के नौनिहालों को नही मिल रहा पोषाहार कतारी कोना में विलुप्त प्राय आदिम जनजाति के नौनिहालों को नही मिल रहा...

चैनपुर के कतारी कोना में आंगनबाड़ी केंद्र 3 महीने से बंद
हिन्दुस्तान टीम,गुमलाTue, 14 May 2024 11:30 PM
ऐप पर पढ़ें

चैनपुर प्रतिनिधि। चैनपुर प्रखंड क्षेत्र के आदिम जनजाति बहुल कतारी कोना गांव का आंगनबाड़ी केंद्र पिछले तीन महीना से बंद है। आंगनबाड़ी केंद्र बंद रहने से केंद्र पर आकर बच्चे भटकते रहते हैं । उनको पोषण आहार भी नहीं मिल पाता है। स्थानीय ग्रामीण बिफै असुर सहित कई लोगो ने बताया कि लगभग तीन माह पूर्व आंगनबाड़ी केंद्र की सेविका बसंती असुराइन ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर लिया था। इसके बाद से कतारी कोना आंगनबाड़ी केंद्र में सेविका की नियुक्ति नहीं की गई है । जिससे यह आंगनबाड़ी केंद्र बंद है। आंगनबाड़ी केंद्र बंद रहने से यहां के बच्चों को सही पोषण आहार भी नहीं मिल पा रहा है। स्थानीय ग्रामीणों ने इसकी शिकायत मुखिया से लेकर विभाग के अधिकारियों तक की है। इसके बावजूद आदिम जनजाति बहुल इस गांव में आंगनवाड़ी केंद्र को सुचारू रूप से चलाने के लिए किसी भी सेविका की नियुक्ति नहीं किया गया। सरकार विलुप्तप्राय आदिम जनजातियों के संरक्षण के लिए हर सुविधा मुहैया कराने का दावा करती है। आदिम जनजातियों को लाभ सिर्फ कागजों पर ही सीमित कर रहा है । जमीनी स्तर पर हकीकत कुछ और देखने को मिलती है। ग्रामीणों ने कहा कि आंगनबाड़ी केंद्र बंद रहने से बच्चों को काफी परेशानी हो रही है। बच्चों को मिलने वाला पोषाहार भी नहीं मिल पा रहा है। ग्रामीणों ने मांग की है कि आंगनबाड़ी केंद्र का संचालन सुचारु रूप से करने के लिए सेविका की नियुक्ति की जाए।

आंगनबाड़ी केंद्र सुचारू करने को प्रयासरत हैं: मुखिया

मालम पंचायत की मुखिया गुंजन मार्था केरकेट्टा ने कहा कि कतारी कोना गांव का आंगनबाड़ी केंद्र वहां की सेविका बसंती असुराइन के आत्महत्या करने के बाद पिछले तीन माह से बंद पड़ा है। इसे लेकर वह विभाग से भी बात की है । विभाग द्वारा जल्द से जल्द सेविका की नियुक्ति कराने का प्रयास कर रही है, ताकि आंगनबाड़ी केंद्र सुचारू रूप से चालू हो सके।

आंगनबाड़ी केंद्र बंद है ,तो यह गलत है: सीडीपीओ सह बीडीओ

बाल विकास परियोजना पदाधिकारी सह चैनपुर बीडीओ यादव बैठा ने बताया कि कुछ दिन पूर्व ही उन्होने इस विभाग का चार्ज लिया है। कतारी कोना का आंगनबाड़ी केंद्र बंद है ,तो यह गलत है। मामले की जानकारी लेकर यथाशीघ्र आंगनबाड़ी केंद्र को चालू कराया जाएगा।

यह हिन्दुस्तान अखबार की ऑटेमेटेड न्यूज फीड है, इसे लाइव हिन्दुस्तान की टीम ने संपादित नहीं किया है।