DA Image
Monday, December 6, 2021
हमें फॉलो करें :

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ झारखंड घाटशिलानक्सल प्रभावित 'घाटशिला' पर बनेगी वेब सीरीज

नक्सल प्रभावित 'घाटशिला' पर बनेगी वेब सीरीज

हिन्दुस्तान टीम,घाटशिलाNewswrap
Mon, 01 Nov 2021 03:21 AM
नक्सल प्रभावित 'घाटशिला' पर बनेगी वेब सीरीज

मणिशंकर भकत, जादूगोड़ा

दिल्ली के पांच सितारा होटल सूर्या में शनिवार की रात फिल्म घाटशिला (वेब सीरीज) के एग्रीमेंट की औपचारिकता पूरी हुई। इस फिल्म को निर्देशित करेंगे सुप्रसिद्ध निर्माता-निर्देशक-लेखक-कलाकार इकबाल दुर्रानी। हिन्दी मासिक पत्रिका पीसमेकर के बैनरतले नक्सलवाद पर आधारित वेब सीरीज घाटशिला का प्रोडक्शन होगा। बीती रात इकबाल दुर्रानी व पीसमेकर के पब्लिशर-एडिटर संतोष सरस ने एग्रीमेंट पेपर हस्ताक्षर किये। एग्रीमेंट की औपचारिकता पूरी होने के बाद इकबाल दुर्रानी ने बताया कि नक्सली, पुलिस और ग्रामीण की थीम पर वेब सीरीज घाटशिला बनाई जाएगी। उन्होंने कहा कि नक्सलवाद ने देश के कई जंगलवर्ती हिस्से में अपनी मौजूदगी बरकरार रखा है। इससे जंगल-पहाड़ियों में रहने वाले गरीब-गुरबा परेशान रहते हैं। पुलिस और नक्सलियों की जंग में ग्रामीणों को भी पीसना पड़ता है। लेकिन झारखंड के पूर्वी सिंहभूम जिलान्तर्गत घाटशिला सब-डिवीजन में ज्यादातर नक्सलियों को सोशल पुलिसिंग के सहारे मुख्यधारा में शामिल करने में पुलिस ने सफलता प्राप्त कर दूसरे राज्यों के पुलिस-प्रशासन के लिए जबरदस्त उदाहरण पेश किया है।

निर्माता-निर्देशक द्वय ने बताया कि फिल्म में बालीवुड के कलाकारों के अलावा झारखंड के कलाकारों को भी भरपूर मौका मिलेगा। वेब सीरीज घाटशिला को पांच एपिसोड में पूरा करने की योजना है। बता दें, इकबाल दुर्रानी लगभग डेढ़ साल पहले घाटशिला जेल में बंद भाकपा माओवादी नेता कान्हू मुंडा उर्फ मंगल/अर्जुन/मास्टर जी से मुलाकात कर चुके हैं। इतना ही नहीं, दुर्रानी जंगल-पहाड़ियों के बीच उन गांवों का भी दौरा कर चुके हैं, जहां सांसद सुनील महतो, इंस्पेक्टर सुशील नाग, नागरिक सुरक्षा समिति के महासचिव धनाई बास्के और 11 पुलिस जवानों की हत्या नक्सलियों ने की थी। बकौल दुर्रानी फिल्म सत्य घटनाओं पर आधारित होगी। इसकी शूटिंग भी सम्बंधित जगहों पर किए जाने की योजना है।

प्रोड्यूसर संतोष सरस सहरसा (बिहार) के रहने वाले हैं। वे युवा पत्रकार हैं। दूरदर्शन एवं आंखों देखी से वर्षों तक जुड़े रहे संतोष अब पुलिस पर केंद्रित मासिक पत्रिका पीसमेकर का प्रकाशन और सम्पादन दिल्ली से करते हैं। फिल्मी दुनिया में फिल्म 'घाटशिला' के सहारे कदम रख रहे हैं।

सब्सक्राइब करें हिन्दुस्तान का डेली न्यूज़लेटर

संबंधित खबरें