ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News झारखंड घाटशिलाप्रचंड गर्मी बनी जानलेवा, 48 घंटे में दो की लू से मौत, एक गंभीर

प्रचंड गर्मी बनी जानलेवा, 48 घंटे में दो की लू से मौत, एक गंभीर

प्रचंड गर्मी ने लोगों का सिर्फ जीना ही मुहाल नही किया है, बल्की लोगों की जान लेना भी शुरु कर दिया है। धालभूमगढ़ प्रखंड की ही बात करे तो पिछले 48...

प्रचंड गर्मी बनी जानलेवा, 48 घंटे में दो की लू से मौत, एक गंभीर
हिन्दुस्तान टीम,घाटशिलाFri, 14 Jun 2024 02:15 AM
ऐप पर पढ़ें

- बुधवार को बंगाल के अजय सिंह की गई थी जान
- लू से बिहार के जमुई निवासी बच्चे की हुई मौत

घाटशिला। हिटी

प्रचंड गर्मी ने लोगों का सिर्फ जीना ही मुहाल नही किया है, बल्की लोगों की जान लेना भी शुरु कर दिया है। धालभूमगढ़ प्रखंड की ही बात करे तो पिछले 48 घंटे में प्रखंड में तीन लोग लू का शिकार हुए है, जिसमें दो की मौत अबतक हो चुकी है। बिते बुधवार को पश्चिम बंगाल के खड़गपुर निवासी अजय सिंह माता-पिता के साथ टाटा खड़गपुर लोकल पकड़ने धालभूमगढ़ स्टेशन आए थे और ट्रेन छूट जाने के कारण स्टेशन परिसर में ही सन हिट का शिकार हो गए एवं बेहतर इलाज के लिए झाड़ग्राम ले जाने के क्रम में उनकी मौत हो गयी। वहीं बृहस्पतिवार को धालभूमगढ़ के मोटरयान के डायनेमो एवं इलेक्ट्रिक मिस्त्री मोहम्मद सिकंदर के यहां काम करने वाला एक 14 वर्षीय मोहम्मद रिजवान खान की तबीयत बिगड़ गई एवं सुबह उल्टी की शिकायत करने पर मोहम्मद सिकंदर ने नजदीकी प्राइवेट दवा दुकान में इलाज करवाया (दुकानदार के अनुसार उसकी तबीयत आज ही बिगड़ी थी )। दवा दुकानदार ने उसे सलाइन चढ़ाया फिर 108 बुलाकर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र ले जाने को कहा। सीएचसी ले जाने के क्रम में बच्चे की मृत्यु हो गई परिजन बच्चे को लेकर अपने पैतृक निवास जमुई बिहार के लिए एंबुलेंस से रवाना हो गए । बच्चे को मिट्टी की रसम अपने पैतृक गांव में की जाएगी।

वहीं तीसरी घटना ग्रामीण अंचल में एक 28 बर्षीय मजदूर के साथ घटी है। जहां मजदूर अपनी पत्नी के साथ एक भवन निर्माण के काम में लगा था। सुंडीसोल निवासी 28 वर्षीय कारु हांसदा काम के दौरान अपनी पत्नी से अच्छा नहीं लगने की बात कह कर बैठ गया । उसके शरीर के तापमान को देखने के बाद लोगों ने उसे सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र धालभूमगढ़ लाया । जहां डॉक्टर गोविंद किस्कू शरीर का तापमान माप जिसमें थर्मामीटर में पारा ने सारी सीमाएं पार कर दी और लगभग तापमान 110 डिग्री सेल्सियस के ऊपर बताया रहा था । प्राथमिक उपचार के बाद बेहतर इलाज के लिए मजदूर को एमजीएम स्थानांतरित कर दिया गया । मजदूर की स्थिति गंभीर बनी हुई थी । समाचार लिखे जाने तक एमजीएम में उसकी जांच प्रारंभ हो गई है।

फोटो-15 धालभूमगढ़ सीएचसी में ईलाजरत लू के शिकार मजदूर।

यह हिन्दुस्तान अखबार की ऑटेमेटेड न्यूज फीड है, इसे लाइव हिन्दुस्तान की टीम ने संपादित नहीं किया है।
Advertisement