ट्रेंडिंग न्यूज़

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ झारखंड घाटशिलाशिविर में 434 मरीजों के स्वास्थ्य की हुई जांच

शिविर में 434 मरीजों के स्वास्थ्य की हुई जांच

प्रखंड के अंगारपाड़ा गांव में रविवार को केंद्र सरकार का उद्यम राइट्स लिमिटेड के सहयोग से स्वयंसेवी संगठन सिटिजन्स फाउंडेशन द्वारा निःशुल्क स्वास्थ्य...

प्रखंड के अंगारपाड़ा गांव में रविवार को केंद्र सरकार का उद्यम राइट्स लिमिटेड के सहयोग से स्वयंसेवी संगठन सिटिजन्स फाउंडेशन द्वारा निःशुल्क स्वास्थ्य...
1/ 2प्रखंड के अंगारपाड़ा गांव में रविवार को केंद्र सरकार का उद्यम राइट्स लिमिटेड के सहयोग से स्वयंसेवी संगठन सिटिजन्स फाउंडेशन द्वारा निःशुल्क स्वास्थ्य...
प्रखंड के अंगारपाड़ा गांव में रविवार को केंद्र सरकार का उद्यम राइट्स लिमिटेड के सहयोग से स्वयंसेवी संगठन सिटिजन्स फाउंडेशन द्वारा निःशुल्क स्वास्थ्य...
2/ 2प्रखंड के अंगारपाड़ा गांव में रविवार को केंद्र सरकार का उद्यम राइट्स लिमिटेड के सहयोग से स्वयंसेवी संगठन सिटिजन्स फाउंडेशन द्वारा निःशुल्क स्वास्थ्य...
Newswrapहिन्दुस्तान टीम,घाटशिलाMon, 01 Aug 2022 01:20 AM
ऐप पर पढ़ें

गुड़ाबांदा, संवाददाता। प्रखंड के अंगारपाड़ा गांव में रविवार को केंद्र सरकार का उद्यम राइट्स लिमिटेड के सहयोग से स्वयंसेवी संगठन सिटिजन्स फाउंडेशन द्वारा निःशुल्क स्वास्थ्य शिविर का आयोजन किया गया। इस दौरान आठ डॉक्टरों की टीम ने 434 मरीजों के स्वास्थ्य की जांच की तथा चिकित्सीय सलाह प्रदान की। डॉक्टरों के परामर्श पर मरीजों को निःशुल्क दवाइयां भी प्रदान की गयी। जमशेदपुर के पूर्णिमा नेत्रालय के नेत्र चिकित्सकों तथा टेक्नीशियनों ने नेत्र संबंधित बीमारियों की जांच की। मोतियाबिंद से ग्रस्त 39 नेत्र रोगियों का आयुष्मान भारत योजना के तहत पूर्णिमा नेत्रालय में निःशुल्क आपरेशन कराया जाएगा।

राइट्स लिमिटेड के स्वतंत्र निदेशक तथा भारतीय जनता पार्टी के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष डॉ. दिनेशानंद गोस्वामी, वरीय नेता रंजीत बाला, गुड़ाबांदा के प्रखंड उपप्रमुख रतनलाल राऊत, पूर्व बीस सूत्री अध्यक्ष भूषण चन्द्र महतो, बहरागोड़ा मंडल अध्यक्ष राजकुमार कर, भक्तिश्री पांडा, दीपू शर्मा, हेमकांत भूयां, उत्पल पैड़ा, बिल्टु प्रधान, तन्मय दास तथा क्षेत्र के विशिष्ट नागरिकों ने पंडित दीनदयाल उपाध्याय के चित्र के समक्ष दीप जलाकर तथा पुष्प अर्पित कर स्वास्थ्य शिविर का उद्घाटन किया। कार्यक्रम में डॉ. गोस्वामी ने कहा कि राज्य के इस सीमावर्ती क्षेत्र में स्वास्थ्य सेवाओं की अत्यंत कमी है। यहां के लोगों को चिकित्सा सुविधा के लिए भी ओडिशा तथा पश्चिम बंगाल के अस्पतालों पर निर्भर रहना पड़ता है। इन स्वास्थ्य शिविरों के आयोजन से अपने घरों के पास ही लोगों को चिकित्सीय जांच एवं सलाह प्राप्त हो जाती है। शिविर में मेडिसिन विशेषज्ञ डॉ ऋतुराज, डॉ. एनआर सिंह, टीएमएच के पूर्व शल्य चिकित्सक डॉ. एसएस सिंह, चर्म रोग विशेषज्ञ डॉ. नीरज मिश्रा, आंख, कान तथा गला रोग के डॉ. शंभू चौधरी, डॉ. शांतुनु महापात्र, दंत रोग चिकित्सक डॉ. सुमन साव, पूर्णिमा नेत्रालय के नेत्र चिकित्सकों तथा जितेन्द्र कुमार श्रीवास्तव ने मरीजों को चिकित्सीय सलाह प्रदान की।

शिविर को सफल बनाने में जतीन बिहारी जेना, सुब्रत राणा, सदानंद पात्र, समीर पात्र, स्वपन पात्र, देवदत्त बेरा, गौरांग बारीक, देवाशीष महाकुड़, हर प्रसाद मिश्र, परशुराम बारीक, स्वपन घोष, प्रशांत बेरा, झंटू पांडा, देबाशिष पांडा, अमित दास, अजय मुंडा, प्रतिमा मुंडा, प्रीतिका मुंडा, चंदन बेरा, प्रणब पात्र, सिद्धेश्वर कालिंदी, अर्पण सिंह, अमर कालिंदी, तपन सीट, विकास सीट, पुलीन पैड़ा, राजीव राऊत, कृपा सिंधु दोलाई, सुधांशु पांडा, शक्ति बेरा, रामकृष्ण महतो, लिसा महातो, जेना, यादव पात्र, राजु महतो अहम भूमिका निभाई।

epaper