DA Image
27 फरवरी, 2020|4:08|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

लापता शांखो टुडू का कब्र में मिला शव

default image

17 जनवरी से लापता 68 वर्षीय शांखो टुडू की हत्या कर शव को बालू के कब्र में दफना दिया गया था। शुक्रवार को निश्चितपुर के नाला के समीप किसी ग्रामीण की नजर कब्र से किसी मनुष्य का हाथ बाहर दिखने के बाद मामले की सूचना कोवाली थाना प्रभारी शत्रुघ्न पासवान को दी।

सूचना पाकर पुलिस मौके पर पहुंची और लाश को बालू के कब्र से निकलवा कर पोस्टमार्टम के लिए भेजा। कोवाली थाना क्षेत्र के हरिणा बुनूडीह गांव का यह मामला पांच दिनों बाद तक रहस्यमय बना हुआ था। इस मामले में किसी तरह की स्पष्ट जानकारी परिजनों एवं पुलिस को नहीं मिल रही थी। इस कारण पुरा पुलिस प्रशासन परेशान था।।पुलिस ने मामले में हत्या का संदेह व्यक्त करते हुए शव की खोज में जंगल से लेकर तालाब तक की खाक छान दिया, परंतु शांखो को न जीवित बरामद किया जा सका और न ही लाश ही जब्त हो सकी थी। बुनुडीह निवासी शांखो टुडू विगत 17 जनवरी को काड़ाडुबा मेला में मुर्गा बेचने के लिए निकले थे, लेकिन वे मुर्गा बेचे बगैर घर लौट रहे था। इसी क्रम में लापता हो गए। इसके दो दिन बाद उनके दोनों मुर्गा को जंगल से बरामद किया गया, वहीं उनके चप्पल सड़क किनारे बिखरे पड़े मिले, जबकि चप्पल से एक सौ फीट की दूरी पर जंगल के पंगडंडी रास्ते मे खून के धब्बे मिले थे। पुलिस इसी को हत्या का आधार मानकर जांच कर रही है। इसमें खोजी कुत्तों का भी सहारा लिया गया, जो जंगल के रास्ते घुमकर हरिणा तालाब तक पहुंची। पुलिस उसकी खोज में जंगल के साथ-साथ तालाब की भी खाक छान दिया। इसमे बुधवार को गोताखोर भी लगाये गये, लेकिन किसी तरह का सुराग नहीं मिला। सूचना पाकर मुसाबनी डीएसपी पीतांबर सिंह खेरवार, बीडीओ कपिल कुमार,थाना प्रभारी शत्रुघ्न पासवान सहित सैकड़ों ग्रामीणों की भीड़ घटनास्थल पर जुट गए।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Dead body of missing Shankho Tudu found in grave