DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

महिला को न्याय नहीं मिला, अब केस उठाने की दी जा रही है धमकी

महिला को न्याय नहीं मिला, अब केस उठाने की दी जा रही है धमकी

बेटे के खोज करते-करते पति की भी हत्या हो गयी। अब एक महिला अपने पति के हत्यारों की गिरफ्तारी और बेटे की खोज के लिए अपने बहू और छोटे बेटे के साथ दर-दर भटक रही है। अबतक उसे न्याय तो नहीं मिला, पर अपराधी उसे केस उठाने के लिए धमकी दे रहे हैं। मामला मझिआंव थाना क्षेत्र के टड़हे गांव का है। गांव की 60 वर्षीय मानो देवी बताती है कि उनके पति अंबिका पासवान का सिर कटा शव 15 मई 2017 को जिलांतर्गत मेराल थाना क्षेत्र के रबजबंधा से बरामद किया गया था। उसके कुछ दिनों पहले से ही वह घर से गायब थे। उससे पहले पति के साथ पूरा परिवार अपने लापता बड़े पुत्र चंद्रमा पासवान की खोज में परेशान थे। उसे वर्ष 2015 में काम के लिए दलाल चेन्नई ले गए थे। उसके बाद से वह न तो घर लौटा और न ही उसके बारे में परिजनों को किसी तरह की जानकारी मिली। थक-हारकर अंबिका ने थाना में तीन लोगों के खिलाफ नामजद केस दर्ज कराया था। उसपर केस उठाने का लगातार दबाव बनाया जा रहा था, पर वह बेटे की सकुशल वापसी को लेकर अड़े थे। कई बार थाना पहुंचकर गिड़गिड़ाया, पर उसके बेटे की खोज में पुलिस ने दिलचस्पी नहीं दिखाई। न ही पुलिस ने नामजद आरोपियों पर ही कोई कार्रवाई कर सकी। अब मानो का छोटा पुत्र कन्हाई पासवान मां और भाभी ललिता देवी को लेकर न्याय के लिए दर-दर भटक रहा है। कन्हाई ने बताया कि पिता के हत्यारों की गिरफ्तारी नहीं हो रही है। आरोपी उन्हें केस उठाने के लिए दबाव बना रहे हैं। जान से मारने की धमकी दी जा रही है। मुंगालाल गुप्ता, रामकिशुन गुप्ता, सीताराम गुप्ता और वंशी साव के खिलाफ नामजद प्राथमिकी दर्ज कराई गई है। उल्टे आरोपी और पुलिस उन्हें ही परेशान कर रही है। उन्होंने एसपी से मिलकर भी पूरी घटना की जानकारी देकर न्याय की गुहार लगाई है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Woman is wandering about the murder of husband's killers and son's search