ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News झारखंड गढ़वाबहेरवा टोला में चुआंड़ी का पानी पीने को विवश हैं ग्रामीण

बहेरवा टोला में चुआंड़ी का पानी पीने को विवश हैं ग्रामीण

फोटो खरौंधी एक: चुआंड़ी से पानी लेती बहेरवा टोला की महिलाएं आजादी के 77 साल बीत जाने के बाद भी सुंडी पंचायत के बहेरवा टोला के लोग मूलभूत सुविधाओं से...

बहेरवा टोला में चुआंड़ी का पानी पीने को विवश हैं ग्रामीण
हिन्दुस्तान टीम,गढ़वाSun, 23 Jun 2024 01:15 AM
ऐप पर पढ़ें

खरौंधी, प्रतिनिधि। आजादी के 77 साल बीत जाने के बाद भी सुंडी पंचायत के बहेरवा टोला के लोग मूलभूत सुविधाओं से वंचित है। बहेरवा टोले पर न तो अच्छी सड़क है और न ही पीने का पानी। बहेरवा टोला के 150 परिवार के लोग नदी में चुआंड़ी खोदकर उसका पानी पीने को विवश हैं। चार माह पूर्व नल जल योजना आई तो लोगों को पानी की समस्या दूर होने की उम्मीद जागी थी। उसके बाद भी नल जल योजना का लाभ अबतक ग्रामीणों को नहीं मिल सहा।
बहेरवा टोला की कुंती देवी, शीला देवी, कैलाशी देवी, तेतरी देवी, रशीदा देवी, वार्ड सदस्य सुबाराम, विश्वनाथ राम, नंदलाल राम, बंटू सिंह सहित अन्य ने बताया चार माह पूर्व ही बहेरवा टोला के सभी चापाकल सूख गये हैं। उसी समय से नदी में चुआड़ी खोदकर पीने के पानी का बंदोबस्त ग्रामीण कर रहे हैं। चुआंड़ी के पानी से लोग स्नान करने से लेकर कपड़े धोने व अन्य दिनचर्या का काम निपटाते हैं। पंचायत के साथ टोला में भी नल जल योजना के माध्यम से पानी सप्लाई करना था। टोले के लोगों के कहा कि उन्होंने कई बार ठेकेदार से नल जल योजना को पूरा कर पानी सप्लाई करने का आग्रह किया लेकिन उसने एक नही सुनी। गांव के ही बुटन राम ने कहा चार दिन पूर्व उसके पिता का देहांत हो गया है। चुआंड़ी के पानी से ही श्राद्धकर्म निपटाया जा रहा है। पानी को लेकर बहुत परेशानी है। शिकायत के बाद भी कोई सुनने वाला नहीं है। स्थानीय भाजपा नेता अरुण कुमार सिंह ने कहा बहेरवा टोला के सभी चापाकल सूख चुके हैं। स्थानीय ग्रामीण चार माह से नदी में चुआंड़ी खोदकर उससे पानी की व्यवस्था कर उपयोग कर रहे हैं। पंचायत में नल जल योजना के माध्यम से पानी सप्लाई करना था। ठेकेदार से कई बार आग्रह किया गया पर नल जल योजना का कार्य भी नहीं हुआ। मामले में विधाायक प्रतिनिधि जितेंद्र प्रसाद यादव ने कहा कि बहेरवा टोला में पानी की समस्या की जानकारी लोगों ने दी है। पानी की समस्या देखते हुए नल जल योजना लाया गया था। उसके बाद भी लापरवाही की वजह से योजना का लाभ ग्रामीणों को नहीं मिल रहा है। पीएचइडी के पदाधिकारी से मिलकर लोगों के लिए पानी की सुविधा बहाल करने की मांग करेंगे। उधर नल जल योजना के ठेकेदार मो हाफिज अंसारी ने कहा कि सुंडी पंचायत में उसे 27 प्वाइंट करना था। सुंडी के सभी 27 प्वाइंट पूरा हो गया है। उसका चयन मुखिया और जल सहिया को करना था। उसी के अनुसार काम किया गया।

यह हिन्दुस्तान अखबार की ऑटेमेटेड न्यूज फीड है, इसे लाइव हिन्दुस्तान की टीम ने संपादित नहीं किया है।
Advertisement