ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News झारखंड गढ़वानशीले पदार्थों के सेवन को रोकना हम सबका सामाजिक दायित्व : सिविल सर्जन(संपादित)

नशीले पदार्थों के सेवन को रोकना हम सबका सामाजिक दायित्व : सिविल सर्जन(संपादित)

जिला विधिक सेवा प्राधिकार के तत्वावधान में सोमवार को सदर अस्पताल में नशा उन्मूलन अभियान को लेकर कार्यक्रम का आयोजन किया गया। मौके पर मुख्य अतिथि के...

नशीले पदार्थों के सेवन को रोकना हम सबका सामाजिक दायित्व : सिविल सर्जन(संपादित)
हिन्दुस्तान टीम,गढ़वाTue, 28 May 2024 02:00 AM
ऐप पर पढ़ें

गढ़वा, प्रतिनिधि। जिला विधिक सेवा प्राधिकार के तत्वावधान में सोमवार को सदर अस्पताल में नशा उन्मूलन अभियान को लेकर कार्यक्रम का आयोजन किया गया। मौके पर मुख्य अतिथि सिविल सर्जन डा.अशोक कुमार उपस्थित थे। मौके पर उन्होंने कहा कि बच्चों को नशीले पदार्थों से दूर रखने में मुख्य भूमिका उनके अभिभावकों की है। साथ ही हम सबों का भी सामाजिक दायित्व है।
उन्होंने कहा कि हमें अपने बच्चों पर नजर रखने की जरूरत है। हमारी जानकारी में भी कोई बच्चा यदि नशीले पदार्थों का सेवन कर रहा है या फिर वह ड्रग पैडलर का पोपेट बन कर कार्य कर रहा है तो भी हमारी जिम्मेदारी बनती है कि उसे सही रास्ते पर लाएं। उसके लिए उसे नशा मुक्ति केंद्र में काउंसिलिंग कराने के लिए भेजा जाएगा। जरूरत पड़ने पर नशे का सेवन करने वाले लोगाों को दवा के माध्यम से भी ठीक किया जाता है। उन्होंने कहा कि फिलवक्त पलामू स्थित मेदिनीराय मेडिकल कॉलेज हास्पिटल में नशा मुक्ति केंद्र संचालित है। नशे के कारण समाज में कई तरह की समस्याएं उत्पन्न हो रही हैं। वैवाहिक संबंध टूट रहे हैं। नशे के कारण कई परिवार बर्बाद हो रहे हैं। नशा उन्मूलन में भागीदारी निभाना हम सबका सामाजिक दायित्व है। कार्यक्रम में पीएलवी मुरली श्याम तिवारी ने कहा कि नशीले लत से मुक्ति के लिए नशा मुक्ति केंद्र या मेडिकल ट्रीटमेंट की आवश्यकता वाले बच्चों को कानूनी रूप से सहायता के लिए जिला विधिक सेवा प्राधिकार को पीएलवी के माध्यम से सूचना उपलब्ध कराएं। नशीले पदार्थों की लत या उसे बेचने में संलिप्त बच्चों के निश्शुल्क कानूनी सहायता दिलाने के लिए हरसंभव मदद दिलाए जाएगी। मालूम हो कि झालसा रांची के निर्देश पर यह अभियान चलाया जा रहा है। पीडीजे सह जिला विधिक सेवा प्राधिकार के अध्यक्ष राजेश शरण सिंह और सचिव रवि चौधरी के निर्देश पर गढ़वा शहर के स्कूलों, बस अड्डा, रेलवे स्टेशन समेत सभी सार्वजनिक स्थानों पर लोगों के 18 वर्ष से कम उम्र के बच्चों को नशीले पदार्थों के सेवन करने से रोकने के लिए जागरूक किया जा रहा है। कार्यक्रम में सदर अस्पताल गढ़वा के चिकित्सक डा. टी पीयूष, स्थायी लोक अदालत के सदस्य राकेश कुमार त्रिपाठी, अधिवक्ता राहुल ऋषि, जनक विकास धारा आर्गेनाइजेशन के सचिव रामाशंकर चौबे सहित अन्य ने भी विचार व्यक्त किए। मौके पर पीएलवी उमाशंकर द्विवेदी, संगीता सिन्हा, स्वास्थ्य विभाग के डीडीएम सुजीत कुमार मुंडा, विमलेश कुमार, संजय कुमार समेत कई अन्य लेाग उपस्थित थे।

यह हिन्दुस्तान अखबार की ऑटेमेटेड न्यूज फीड है, इसे लाइव हिन्दुस्तान की टीम ने संपादित नहीं किया है।