DA Image
हिंदी न्यूज़ › झारखंड › गढ़वा › सभी आठ परीक्षा केंद्रों पर कड़ी सुरक्षा में होगी जेपीएसएसी की परीक्षा
गढ़वा

सभी आठ परीक्षा केंद्रों पर कड़ी सुरक्षा में होगी जेपीएसएसी की परीक्षा

हिन्दुस्तान टीम,गढ़वाPublished By: Newswrap
Tue, 14 Sep 2021 08:00 PM
सभी आठ परीक्षा केंद्रों पर कड़ी सुरक्षा में होगी जेपीएसएसी की परीक्षा

श्री बंशीधर नगर। प्रतिनिधि

अगले 19 सितंबर को होने वाली झारखंड संयुक्त सैनिक सेवा प्रारंभिक परीक्षा 2021 के लिए श्रीबंशीधर नगर अनुमंडल में कुल आठ परीक्षा केंद्र बनाए गए हैं। परीक्षा दो पालियों में 10 बजे पूर्वाहन से 12 बजे दोपहर तक अबतक द्वितीय पाली में 2 बजे अपराह्न से 4 बजे तक आयोजित की जाएगी। परीक्षा के दिन प्रातः 9 बजे पूर्वाह्न से शाम 5 अपराह्न तक परीक्षा केंद्रों के 500 गज की परिधि में अनुमंडल पदाधिकारी आलोक कुमार की ओर धारा 144 के तहत सामान्य निषेधाज्ञा लागू किया गया है।

जानकारी देते हुए अनुमंडल पदाधिकारी आलोक कुमार ने बताया कि जेपीएससी परीक्षा के लिए प्लस टू विद्यालय, राजकीयकृत अंबालाल पटेल बालिका उच्च विद्यालय, आरके पब्लिक स्कूल अधौरा, मिलिनियम पब्लिक स्कूल विशुनपुर, राजकीयकृत मध्य विद्यालय सिलीदाग एक रमुना, बीएसएम कॉलेज भवनाथपुर, डीएवी पब्लिक स्कूल सेल भवनाथपुर टाऊनशिप व सरस्वती शिशु विद्या मंदिर टाउनशिप भवनाथपुर को परीक्षा केंद्र बनाया गया है। परीक्षा को शांतिपूर्ण, कदाचार मुक्त संपन्न कराने व परीक्षा केंद्रों के आसपास अवांछनीय तत्व एकत्र नहीं हो उसके लिए सभी परीक्षा केंद्र के चाहरदीवारी से 50 मीटर की चतुर्दिक दूरी तक दंड प्रक्रिया संहिता की धारा 144 अनुमंडल पदाधिकारी के द्वारा लागू किया गया है। परीक्षा केंद्रों के चारदीवारी से 50 मीटर की चतुर्दिक दूरी में कहीं भी 5 या 5 से अधिक व्यक्तियों का समूह किसी भी परिस्थिति में इकट्ठा नहीं रहेंगे। परीक्षा केंद्र के आसपास शोरगुल की अनुमति नहीं है। परीक्षा केंद्रों के आसपास लाउडस्पीकर, डीजे का उपयोग वर्जित है। किसी प्रकार का प्रचार-प्रसार व किसी तरह के ढोल, नगाड़ा सहित अन्य वाद्य यंत्रों का प्रयोग वर्जित रहेगा। परीक्षा केंद्रों के आसपास किसी भी प्रकार का हथियार, अग्नेयास्त्र, ज्वलनशील पदार्थ लाना वर्जित है। परीक्षा केंद्रों के अंदर परीक्षार्थी को मोबाइल फोन, पेजर, कैलकुलेटर आदि इलेक्ट्रॉनिक यंत्र लाना पूर्णतः वर्जित है। कोविड-19 से बचाव व रोकथाम को लेकर गृह मंत्रालय भारत सरकार व झारखंड सरकार की ओर से जारी सभी दिशा-निर्देशों का अनुपालन करने की बाध्यता होगी। उक्त शर्तों का उल्लंघन करने वाले व्यक्तियों के विरुद्ध सख्त कानूनी कार्रवाई की जाएगी।

संबंधित खबरें