DA Image
7 अगस्त, 2020|6:13|IST

अगली स्टोरी

ललिता के हत्या में शामिल चार आरोपी गिरफ्तार

default image

थाना क्षेत्र के सिरोई खुर्द के बाघोटवा टोला निवासी ब्रम्हदेव सिंह के 19 वर्षीय पुत्री ललिता कुमारी के हत्या का उद्भेदन करते हुए पुलिस ने हत्या में शामिल चार आरोपियों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है। इंस्पेक्टर सह थाना प्रभारी हरि किशोर मंडल ने बताया कि बाघोटवा निवासी ब्रम्हदेव सिंह की पुत्री ललिता का शव 19 जुलाई को जंगल से बरामद किया गया था। घटना के बाद प्राथमिकी दर्ज करते हुए कार्रवाई शुरू की गई। उसमें पंकज सिंह उर्फ सुमन, रविन्द्र सिंह, सरताज सिंह और चिनिया थाना के बिलती खैर निवासी ठाकुर दयाल सिंह को हत्या करने के आरोप में गिरफ्तार किया गया। इंस्पेक्टर ने बताया कि पंकज उर्फ सुमन सिंह के साथ ललिता का प्रेम- प्रसंग एक वर्षो से चल रहा था। पंकज ने ललिता को एक मोबाइल दिया था। उस पर फोन कर जंगल में बुलाता था और उसके साथ शारीरिक संबंध बनाता था। 17 जुलाई को पंकज ने ललिता को फोन किया कि जंगल में आओ। उसके बाद ललिता जंगल पहुँच गयी। उसके बाद पंकज ने ललिता के साथ शारीरिक संबंध बनाया। ललिता ने पंकज को कहा कि अपना मोबाइल लिजिए अब आप से कोई बात नहीं होगी। पंकज ने गुस्से में हो गया और पंकज ने ललिता को मारपीट कर अचेत कर दिया। पंकज ने अपने एक दोस्त रविन्द्र सिंह को बाईक लेकर बुलाया और दोनों वहां से कुछ दूर एक मैदान में पहुंचे। वहां सरताज और ठाकुर दयाल बैठा था। फिर चारों ने एक साथ शराब पीया और दो घंटे बाद पुन: घटनास्थल पहुंचा। उस समय ललिता अचेत अवस्था में पड़ी हुई थी। फिर चारों ने मिलकर उसके दुपट्टा से उसे पेड़ में लटका दिया। उसके बाद चारों अपने-अपने घर चले गए। 19 जुलाई को थाना को सूचना मिली कि जंगल में एक लड़की का शव पेड़ में लटका हैं। उसके बाद सब इंस्पेक्टर कुंदन कुमार सिंह, शंकर प्रसाद कुशवाहा, सोहन कुमार और विकास कुमार सिंह घटना स्थल पहुंचे और शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल भेज दिया। पुलिस ने ललिता के पिता के आवेदन पर अनुसंधान कर मामले की गुथी सुलझाया गया। ।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Four accused involved in Lalita 39 s murder arrested