DA Image
हिंदी न्यूज़ › झारखंड › गढ़वा › कोयल नदी में बाढ़ से 20 करोड़ के पुल में दरार, पलामू से संपर्क टूटा
गढ़वा

कोयल नदी में बाढ़ से 20 करोड़ के पुल में दरार, पलामू से संपर्क टूटा

हिन्दुस्तान टीम,गढ़वाPublished By: Newswrap
Sun, 01 Aug 2021 03:02 AM
कोयल नदी में बाढ़ से 20 करोड़ के पुल में दरार, पलामू से संपर्क टूटा

मझिआंव। प्रतिनिधि

मझिआंव-ऊंटारी रोड पुल में कोयल नदी में आई बाढ़ के कारण दरार आ गई। मामला सामने आने के बाद प्रशासन ने बैरिकेडिंग कर पुल से आवाजाही पूरी तरह रोक दी है। उक्त पुल 2015 में करीब 20 करोड़ रुपये की लागत से ग्रामीण विकास विशेष प्रमंडल की ओर से कराया गया था। पुल में दरार आने के कारण उक्त पुल से होकर आवाजाही रोकने बैरिकेडिंग कर पुलिस की तैनाती कर दी गई है। बताया जाता है कि 2016 में भी नदी में आई बाढ़ के कारण इस पुल का पाया बह गया था। उसके बाद उसे फिर से बनाकर आवागमन चालू कराया गया था। उक्त पुल का उद्घाटन तत्कालीन ग्रामीण विकास मंत्री नीलकंठ सिंह मुंडा ने किया था। पुल के शुरू होने से गढ़वा के मझिआंव व पलामू के विश्रामपुर की दूरी 20 किमी कम हो गई। साथ ही गढ़वा व पलामू के करीब आधा दर्जन प्रखंडों में रह रहे लोगों को इसका सीधा फायदा हो रहा था।

ऊंटारी रोड व मझिआंव के बीच कोयल नदी पर पुल के बनने से पलामू जिला के ऊंटारी रोड प्रखंड, पांडू, विश्रामपुर व नावाबाजार प्रखंड के अलावा गढ़वा जिला के मझिआंव, कांडी व बरडीहा प्रखंड को सीधा लाभ हो रहा था। पुल बन जाने से गढ़वा के उक्त तीनों प्रखंड के दर्जनों गांवों के लोग ट्रेन पकड़ने ऊंटारी रोड स्टेशन आसानी से पहुंचते थे। उसके अलावा पलामू जिला के ऊंटारी रोड प्रखंड के सतबहिनी, नावाडीह, लहरबंजारी, सिड़हा, मुरमा, जोगा, विश्रामपुर के सेमरी, पांडेयपुरा, जडीहा, जोगा, बिरजा, पांडू के मुरमाकला, मुरमा खुर्द के अलावा गढ़वा के मझिआंव प्रखंड के लोहड़ी, आमर, बकोइया, खरसोता, कुंड़वा, खजुरी सहित अन्य गांव के लोगों को पुल चालू होने से सुविधा हो रही थी।

संबंधित खबरें