DA Image
हिंदी न्यूज़ › झारखंड › दुमका › बिहार में संताली व उरांव भाषा को मान्यता क्यों नहीं दे रहे नीतीश कुमार:डॉ.रामेश्वर उरांव
दुमका

बिहार में संताली व उरांव भाषा को मान्यता क्यों नहीं दे रहे नीतीश कुमार:डॉ.रामेश्वर उरांव

हिन्दुस्तान टीम,दुमकाPublished By: Newswrap
Thu, 23 Sep 2021 04:32 AM
बिहार में संताली व उरांव भाषा को मान्यता क्यों नहीं दे रहे नीतीश कुमार:डॉ.रामेश्वर उरांव

दुमका। वरीय संवाददाता

भोजपुरी-मगही भाषा विवाद पर बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के बयान पर झारखंड के वित्त मंत्री डॉ रामेश्वर उरांव ने पलटवार किया है। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार द्वारा बिहार-झारखंड के भाई-भाई कहे जाने पर डॉ उरांव ने कहा कि नीतीश कुमार बिहार के जिलों में निवास करने वाली उरांव और संताल जातियों के लोगों की भाषा उरांव और संताली को अपने बिहार राज्य के नौकरियों में मान्यता क्यों नहीं दे रहे। इसका जवाब बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को देना चाहिए। झारखंड के वित्त मंत्री डॉ रामेश्वर उरांव बुधवार को दुमका में कॉग्रेस भवन में पत्रकारों से बातचीत कर रहे थे। डॉ रामेश्वर उरांव ने कहा कि बिहार के बांका, सहरसा, पूर्णिया,कटिहार,बगहा, बेतिया इलाके में संताल और उरांव समाज के लोग काफी संख्या में निवास करते हैं। उन्होंने कहा कि बिहार और झारखंड राज्य जो अलग हुआ उसमें भाषा-संस्कृति के भी मुद्दे शामिल थे। उन्होंने कहा कि इस पर हमारे मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने सही निर्णय लिया है।

एसएफसी के गोदाम प्रबंधको की बहाली जल्द

वित्त सह खाद्य आपूर्ति मंत्री डॉ रामेश्वर उरांव ने कहा कि राज्य खाद्य निगम(एसएफसी) के गोदामों के प्रबंधको के रिक्त हो गए सभी पदों पर बहुत जल्द नियुक्ति की जाएगी। मंत्री ने कहा कि बहाली संविदा के आधार पर होगी। उन्होंने कहा कि खाद्य आपूर्ति विभाग के अन्य रिक्त पदों पर भी झारखंड राज्य कर्मचारी चयन आयोग के द्वारा नियुक्ति होनी है।

गोदामों में अनाज सड़ने पर होगी कार्रवाई

खाद्य आपूर्ति मंत्री डॉ रामेश्वर उरांव ने कहा कि राज्य के कई अनाज गोदामों में अनाज सड़ने और चीनी के खराब हो जाने की मिल रही शिकायतों पर कहा कि ऐसे मामलों में कड़ी कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने कहा कि हमारी दोस्ती गरीबों से है डीलरों से नहीं। जो चीनी गोदाम में ही खराब हो गया है उसे बांटने नहीं दिया जाएगा।

कांग्रेस कार्यालय का नाम बापू भवन होगा

वित्त सह खाद्य आपूर्ति मंत्री डॉ रामेश्वर उरांव ने पत्रकारों के सवाल पर कहा कि प्रदेश कांग्रेस कमेटी में संताल परगना को प्रतिनिधित्व नहीं मिलने पर उन्हें कार्यकर्ताओं से बात हुई है। इस पर प्रदेश संगठन में बात होगी। उन्होंने दुमका के कांग्रेस कार्यालय भवन का नाम बापू भवन रखने की घोषणा की। पत्रकार सम्मेलन में जिला कांग्रेस अध्यक्ष श्यामल किशोर सिंह और कांग्रेस नेता डॉ.सुशील मरांडी भी मौजूद थे।

संबंधित खबरें