ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News झारखंड दुमकादुमका में सोलिड वेस्ट मैनेजमेंट प्लांट लगाने का मार्ग हुआ प्रशस्त,सरकार ने लगायी मुहर

दुमका में सोलिड वेस्ट मैनेजमेंट प्लांट लगाने का मार्ग हुआ प्रशस्त,सरकार ने लगायी मुहर

दुमका में सोलिड वेस्ट मैनेजमेंट प्लांट लगाने का मार्ग हुआ प्रशस्त,सरकार ने लगायी मुहरदुमका में सोलिड वेस्ट मैनेजमेंट प्लांट लगाने का मार्ग हुआ...

दुमका में सोलिड वेस्ट मैनेजमेंट प्लांट लगाने का मार्ग हुआ प्रशस्त,सरकार ने लगायी मुहर
हिन्दुस्तान टीम,दुमकाMon, 18 Dec 2023 01:00 AM
ऐप पर पढ़ें

पवन कुमार घोष
दुमका। दुमका शहर के बक्सीबांध मुहल्ले के लोगों को अब कूड़े-कचरे से जल्द ही निजात मिलने की संभावना बन गयी है। यह दुमकावासियों के लिए अच्छी खबर है। दुमका में सोलिड वेस्ट मैनेजमेंट प्लांट(ठोस अपशिष्ट प्रबंधन) लगाने का मार्ग प्रशस्त हो गया है। मुख्यमंत्री ने कैबिनेट की बैठक में दुमका में सोलिड वेस्ट मैनेजमेंट प्लांट स्थापित करने की मंजूरी दे दी है। यहां तक कि नगर परिषद में 172.76 करोड़ की स्वीकृति भी प्रदान कर दी है। सोलिड वेस्ट मैनेजमेंट के लिए दुमका से करीब 10 किलोमीटर दूर ठाड़ी गांव में 11 एकड़ जमीन का अधिग्रहित कर लिया गया है। जमीन अधिग्रहण के साथ ही साथ घेराबंदी के काम को भी पूरा कर लिया गया है। जल्द ही ठाड़ी गांव में सोलिड वेस्ट मैनेजमेंट प्लांट के कार्य को शुरू कर दिया जाएगा। इस महत्वाकांक्षी प्रोजेक्ट से दुमका शहर का विकास होने के साथ ही साथ लोगों को काफी राहत मिलेगी। वहीं नगर परिषद को कचरा निस्तारण की समस्या से राहत मिलने के साथ रॉयल्टी राशि के रुप में आय भी होगी। दुमका शहर एवं आसपास के ग्रामीण इलाकों से निकलने वाले कचरे का यहां पर निस्तारण से लेकर रीसाइक्लिंग, कचरे से ऊर्जा उत्पादन सहित कचरे का उचित प्रबंधन भी होगा। सोलिड वेस्ट मैनेजमेंट के लगने से पर्यावरण के साथ-साथ मानव जीवन के स्वास्थ्य पर काफी फायदेमंद साबित होगा। दुमका शहर का विकास होने के साथ-साथ कूड़े-कचरे में काफी बढ़ोत्तरी हुई है। दुमका के नगर परिषद के लिए कूड़े-कचरे का निस्तारण करना चुनौती बन गयी थी। शहर में बढ़ते कूड़े-कचरे से आए दिन नगर परिषद के कर्मियों को स्थानीय लोगों से दो-चार होना पड़ता था। सोलिड वेस्ट मैनेजमेंट प्लांट लगने से शहरवासियों को भी राहत मिलेगी।

शहर के बीचोबीच कूड़े का लगा हुआ है पहाड़ : दुमका शहर के बक्सीबांध मुहल्ले में कई दशक से मलगढ़ा में कूड़े-कचरे का ढेर लगा हुआ है। कूड़े का पहाड़ लग गया है। शहर से प्रतिदिन कई टन कूड़े-कचरे का उठाव होता है। उक्त कूड़े-कचरे को मलगढ़ा में ही फेंका जाता है। मलगढ़ा के आसपास लोगों की घनी आबादी बस गयी है। मलगढ़ा के चारों ओर ऊंची-ऊंची इमारते खड़ी हो गई है। ऊंची-ऊंची इमारतों के बीच कूड़े-कचरे को डम्प किया जाता है। कूड़े-कचरे के डम्प से पर्यावरण प्रदूषित हो रहा था। यह प्रोजेक्ट कई वर्षो से कागजों में उलझा हुआ था। स्थानीय लोगों ने कई बार आंदोलन भी कर चुके थे,पर कोई व्यवस्था नहीं हो पायी थी।

निवर्तमान नप अध्यक्ष के पहल से ही कचरा निस्तारण प्लांट लगाने का हुआ मार्ग प्रशस्त : दुमका शहर के बक्सीबांध मुहल्ले से कूड़ा-कचरा के निस्तारण करने के लिए निवर्तमान नगर परिषद की अध्यक्ष श्वेता झा ने काफी प्रयास की थी। नप की अध्यक्ष के प्रयास से ही ठाड़ी गांव में सोलिड वेस्ट मैनेजमेंट प्लांट लगाने का मार्ग प्रशस्त हो पाया है। निवर्तमान अध्यक्ष ने ही अपने कार्यकाल में इस महत्वाकांक्षी प्रोजेक्ट लगाने के लिए ठाड़ी गांव में जमीन का अधिग्रहण किया था और उसकी घेराबंदी के काम को भी पूरा कर लिया गया है।

सोलिड वेस्ट मैनेजमेंट प्लांट लगाने की प्रशासनिक स्वीकृति मिल गई है। सोलिड वेस्ट मैनेजमेंट के प्लांट लगने से शहरवासियों को कूड़े-कचरे की समस्या से स्थायी समाधान हो जाएगा। गिला कचरा एवं सूखे कचरे का रीसाइक्लिंग कराया जाएगा। बक्सीबांध मुहल्ले में डम्प कचरे का भी निस्तारण किया जाएगा। यह प्रोजेक्ट अब जल्द लगाने की प्रक्रिया शुरू हो जाएगी।

शितांशु खालको,कार्यपालक पदाधिकारी,नप,दुमका

यह हिन्दुस्तान अखबार की ऑटेमेटेड न्यूज फीड है, इसे लाइव हिन्दुस्तान की टीम ने संपादित नहीं किया है।