Monitoring for open defecation in the open - खुले में शौच मुक्त के लिए की जा रही निगरानी DA Image
14 दिसंबर, 2019|9:32|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

खुले में शौच मुक्त के लिए की जा रही निगरानी

खुले में शौच मुक्त करने के उद्देश्य से नगर परिषद की ओर से निगरानी की जा रही है। नप कर्मी खुले में शौच नहीं करने की अपील कर रहे हैं। खुले में शौच करने पर 100 रुपए जुर्माना लगेगा। दूसरी बार पकड़ाए जाने पर 200 रुपया जुर्माना लगेगा। इधर, जिला ग्रामीण विकास अभिकरण दुमका के डायरेक्टर डिलेश्वर महतो ने गोपीकांदर में शौचालय निर्माण की प्रगति की समीक्षा की। उन्होंने गोपीकांदर गांव में भी जाकर शौचालय निर्माण कायार्ें को देखा। आधा-अधूरा काम को तुरंत पूरा करने व सभी लोगों को शौचालय का ही उपयोग करने का निर्देश दिया। 15 अगस्त तक प्रखंड को खुले में शौच मुक्त करने का लक्ष्य रखा गया है। मौके पर बीडीओ अमित कुमार, बीपीओ नीतू टुडू सहित कई कर्मचारी थे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Monitoring for open defecation in the open