DA Image
12 अगस्त, 2020|1:13|IST

अगली स्टोरी

दुमका में उपभोक्ता मामले मंत्रालय का सुरक्षा स्टोर कार्यक्रम शुरू

default image

लॉकडाउन में नागरिकों को उनके रोजमर्रा की आवश्यक वस्तुओं की आपूर्ति सुनिश्चित कराया भारत सरकार के उपभोक्ता मामले मंत्रालय द्वारा सुरक्षा स्टोर कार्यक्रम प्रारंभ किया गया है। दुमका की उपायुक्त राजेश्वरी बी ने बताया कि कोविड-19 महामारी के बढ़ते संक्रमण के कारण कोई ग्राहक भयवश किराने और अन्य घरेलू सामान लेने के लिए दुकानों में जाने से हिचकिचाते हैं। इसे ध्यान में रखते हुए इसकी मॉनिटरिंग के लिए जिला आपूर्ति पदाधिकारी अल्बर्ट बिलुंग को नोडल पदाधिकारी बनाया गया है। व्यवसायी,आपूर्तिकर्ता तथा आउटलेट्स को सुरक्षा मानक का प्रशिक्षण जिला खाद्य सुरक्षा पदाधिकारी धनेश्वर प्रसाद हेम्ब्रम द्वारा दिया जाएगा।

सुरक्षा स्टोर कार्यक्त्रम की तकनीकी जानकारी बिजनेस अनालिजिस्ट कुमार क्रांति किशोर देंगे। सुरक्षा स्टोर कार्यक्रम का प्रचार प्रसार सहायक जनसंपर्क पदाधिकारी डिम्पी कुमारी करेंगी।क्या है सुरक्षा स्टोरसुरक्षा स्टोर के लिए तैयार वेबसाइट से कोई भी दुकानदार, आउटलेट संचालक या दूसरे दुकानदार जुड़ सकते हैं। कारोबार शुरू करने के पहले दुकान को सेनेटाइज करना होगा। सोशल डिस्टेंसिंग के उपाय के साथ-साथ दूसरे सुरक्षा मानकों पर खरा होना होगा। दुकानदारों को ट्रेनिंग भी दी जाएगी। ट्रेनिंग पूरी करने के बाद फूड इंस्पेक्टर दुकान, स्टोर या आउटलेट का निरीक्षण करेंगे। मानक पर खरा उतरने के बाद कारोबार की इजाजत मिलेगी।वेबसाइट पर अपना पंजीकरण करना होगाआपूर्तिकर्ताओं, आउटलेट्स को वेबसाइट पर अपना पंजीकरण करना होगा। पंजीकरण करने के बाद उन्हें अपने मोबाइल फोन में आरोग्य सेतु एप डाउनलोड करना होगा। इसके बाद संबंधित आपूर्तिकर्ता को सुरक्षा मानकों का प्रशिक्षण प्राप्त करना होगा। प्रशिक्षण प्राप्त करने के बाद संबंधित आपूर्तिकर्ता या आउटलेट्स को आपूर्ति की मंजूरी प्रदान की जाएगी।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Ministry of Consumer Affairs launches safety store program in Dumka