DA Image
13 अगस्त, 2020|10:49|IST

अगली स्टोरी

अवैध बालू खनन में खनन सचिव ने दिया कार्रवाई का निर्देश

अवैध बालू खनन में खनन सचिव ने दिया कार्रवाई का निर्देश

1 / 2नेशनल ग्रीन ट्रिब्यूनल(एनजीटी) के आदेश पर मॉनसून में बालू के खनन पर रोक के बाद भी दुमका जिला में खुलेआम बालू का अवैध खनन हो रहा है। माफियाओं द्वारा ट्रक का ट्रक बालू बिहार भेजा जा रहा...

अवैध बालू खनन में खनन सचिव ने दिया कार्रवाई का निर्देश

2 / 2नेशनल ग्रीन ट्रिब्यूनल(एनजीटी) के आदेश पर मॉनसून में बालू के खनन पर रोक के बाद भी दुमका जिला में खुलेआम बालू का अवैध खनन हो रहा है। माफियाओं द्वारा ट्रक का ट्रक बालू बिहार भेजा जा रहा...

PreviousNext

नेशनल ग्रीन ट्रिब्यूनल(एनजीटी) के आदेश पर मॉनसून में बालू के खनन पर रोक के बाद भी दुमका जिला में खुलेआम बालू का अवैध खनन हो रहा है। माफियाओं द्वारा ट्रक का ट्रक बालू बिहार भेजा जा रहा है। बालू के अवैध खनन की यह स्थिति है कि नोनीहाट इलाके में धोबैय नदी पर बने पुल के नीचे से भी दिनदहाड़े बालू का अवैध खनन किया जा रहा है। आपके अपने लोकप्रिय अखबार ‘हिन्दुस्तान के बुधवार के अंक में ‘पुल के नीचे भी हो रहा बालू का अवैध खनन शीर्षक से खबर छपी थी। इस खबर पर संज्ञान लेते हुए राज्य के खान सचिव अबु बकर सिद्दिक ने इस गंभीर मामले में दुमका के डीसी को कार्रवाई का निर्देश दिया है। इधर गुरुवार को भी दुमका जिला में बालू का अवैध खनन करते देखा गया। खनन विभाग के स्थानीय अधिकारियों,जिला के खनन टास्क फोर्स में शामिल अधिकारियों और पुलिस की उदासीनता के के कारण दुमका जिला में एनजीटी के आदेश की धज्जियां उड़ रही हैं। यहां तक कि नदी पर बने पुलों के नीचे से भी बालू खनन करने से रेत माफिया बाज नहीं आ रहे हैं। दुमका की डीसी राजेश्वरी बी अभी दुमका जिला मुख्यालय से बाहर हैं। खनन विभाग के सचिव अबु बकर सिद्दिक द्वारा कारवाई के निर्देश के बाद माना जा रहा है के डीसी के दुमका लौटने के बाद अवैध बालू खनन में कोई बड़ी कार्रवाई हो सकती है। दिन में अवैध खनन और रात में हो रही ढुलाई दुमका जिला में बालू का अवैध खनन करने में सैकड़ों की संख्या में ट्रैक्टरों को लगाया गया है जिससे बालू को आसपास के इलाके में डम्प किया जा रहा है। डंपिंग स्थल पर ट्रकों पर बालू लोड कर हंसडीहा के रास्ते बिहार भेजा जा रहा है। 4 बजे सुबह से ही बालू का अवैध खनन शुरु हो जाता है। रात में ट्रकों को बिहार भेजा जाता है। रानेश्वर और जामताड़ा के नाला इलाके से बालू लदे ट्रकों को भी हंसडीहा के रास्ते ही बिहार भेजा जा रहा है। नम्बर प्लेट पर लिखा है-जय बाबा बासुकीनाथ अवैध बालू खनन और ढुलाई में लगे अधिकांश ट्रैक्टरों में नम्बर नहीं होता। नम्बर प्लेट की जगह पर ‘जय बाबा बासुकीनाथ या ‘जय माता दी लिखा रहता है। जिन ट्रैक्टरों पर नम्बर रहता है,वह भी फर्जी है कि वास्तविक,इसकी भी जांच नहीं होती। कभी-कभी बालू लदे ट्रैक्टरों और ट्रकों को पकड़े जाने की भी कार्रवाई होती है पर ‘जय बाबा बासुकीनाथ वाले ट्रैक्टरों को कोई नहीं टोकता। बंगाल के बालू घाटों के चलान दिखा कर भी बालू लदे ट्रकों को पास कराने का दुमका खेल चल रहा है। इसकी भी जांच नहीं होती कि जो चलान दिखाया जा रहा है,वह असली है कि फर्जी।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Mining Secretary directed to take action in illegal sand mining