DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

जरमुंडी की सपना दिल्ली में 18 महीने से कैद

जरमुंडी क्षेत्र की एक आदिवासी नाबालिग लड़की सपना दिल्ली में पिछले महीने से कैद में है। युवती को दिल्ली के पीरागढ़ी, मियांवली नगर के हाउस नंबर 5/3 सुषमा सिंहवाहिनी के घर में पिछले करीब 18 महीनों से कैद कर रखा है। जिला बाल संरक्षण समिति सदस्य अमरेन्द्र कुमार यादव ने बताया कि गोड्डा जिले कि महिला लक्ष्मी किस्कू ने काम दिलाने के नाम पर उसे दिल्ली ले जाकर 40 हजार रुपए में बेच दिया था। लड़की सुषमा सिंहवाहिनी के घर पर काम करती है। उसे घर के बाहर निकलने नहीं दिया जाता है। मकान मालिक के अनुपस्थिति में लड़की ने किसी तरह अपने घर पर फोन कर यह सूचना दी है। परिवार को सूचना मिलने पर मामले का उजागर हुआ है। बालिका को रेस्क्यू करने के लिए दिल्ली के बचपन बचाओ आंदोलन के कार्यकर्ताओं को जानकारी दी गई। लड़की द्वारा बताये गये पते का बचपन बचाओ आंदोलन की टीम ने पता कर लिया है। आगे की कार्रवाई जारी है। इस मामले की जानकारी अमरेन्द्र ने बालिका के पिता से संपर्क कर पूरी जानकारी लेने के बाद झारखंड राज्य बाल अधिकार संरक्षण आयोग के अध्यक्ष आरती कुजूर, उपायुक्त मुकेश कुमार, एसपी किशोर कौशल को जानकारी दी है और बरामदगी की मांग की हे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Jarmundi dream of 18 months in Delhi