DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

गोपीकांदर में नक्सलियों के विरुद्ध जारी है सर्च ऑपरेशन

गोपीकांदर में नक्सलियों के विरुद्ध जारी है सर्च ऑपरेशन

1 / 3शनिवार को देर शाम गोपीकांदर के कछुआकांदर में हुई पुलिस के साथ मुठभेड़ के बाद रविवार को भी गोपीकांदर के जंगलों में नक्सलियों के विरुद्ध सर्च ऑपरेशन जारी है। सर्च ऑपरेशन में एसएसबी के जवानों के अलावा...

गोपीकांदर में नक्सलियों के विरुद्ध जारी है सर्च ऑपरेशन

2 / 3शनिवार को देर शाम गोपीकांदर के कछुआकांदर में हुई पुलिस के साथ मुठभेड़ के बाद रविवार को भी गोपीकांदर के जंगलों में नक्सलियों के विरुद्ध सर्च ऑपरेशन जारी है। सर्च ऑपरेशन में एसएसबी के जवानों के अलावा...

गोपीकांदर में नक्सलियों के विरुद्ध जारी है सर्च ऑपरेशन

3 / 3शनिवार को देर शाम गोपीकांदर के कछुआकांदर में हुई पुलिस के साथ मुठभेड़ के बाद रविवार को भी गोपीकांदर के जंगलों में नक्सलियों के विरुद्ध सर्च ऑपरेशन जारी है। सर्च ऑपरेशन में एसएसबी के जवानों के अलावा...

PreviousNext

शनिवार को देर शाम गोपीकांदर के कछुआकांदर में हुई पुलिस के साथ मुठभेड़ के बाद रविवार को भी गोपीकांदर के जंगलों में नक्सलियों के विरुद्ध सर्च ऑपरेशन जारी है। सर्च ऑपरेशन में एसएसबी के जवानों के अलावा दुमका,गोड्डा और पाकुड़ जिलों के पुलिस जवानों को लगाया गया है। रविवार को एसएसबी और झारखंड पुलिस के संयुक्त प्रेस कांफ्रेंस में कछुआकांदर में दो नक्सलियों के मारे जाने की पुष्टि करते हुए बताया कि 4 से 5 नक्सलियों को गोली भी लगी है जिसकी तलाश सर्च ऑपरेशन में की जा रही है। जिन दो नक्सलियों को मुठभेड़ में मारा गया है,उसके शवों की पहचान रविवार को देर शाम तक नहीं हो सकी थी। कछुआकांदर में नक्सली कैंप बल रहा था। मुठभेड़ हार्ड कोर नक्सली ताला दा के दस्ता के साथ हुई थी और एसएसबी एवं झारखंड पुलिस की संयुक्त टीम का नेतृत्व एसएसबी के डिप्टी कमांडेंट नरपत सिंह कर रहे थे। पत्रकार सम्मेलन में मुख्य रुप से एसएसबी फ्रंटियर के आईजी संजय कुमार,डीआईजी सोमित जोशी, झारखंड पुलिस के डीआईजी राजकुमार लकड़ा,दुमका के एसपी किशोर कौशल और एसएसबी के 35 वीं बटालियन के कमांडेंट परीक्षित बेहरा मौजूद थे।

नक्सली कैंप के निकट पहुंच गई थी पुलिस की टीम: अधिकारियों ने बताया कि डिप्टी कमांडेंट नरपत सिंह के नेतृत्व में पुलिस की टीम नक्सली कैंप के निकट पहुंच गई थी। नक्सली दस्ता को आत्मसमर्पण के लिए कहा गया। पर नक्सलियों ने अंधाधुंध फायरिंग शुरु कर दी। जवाब में फायरिंग की गई जिसमें दो नक्सली मारे गए। नक्सलियों के पास से एसएलआर,हैंड ग्रेनेड और भारी मात्रा में गोली के साथ नक्सली साहित्य और लेवी की रशीद,दवाईयां और रोजमर्रे के सामान मिले है।

विचारधारा से भटक चुके हैं नक्सली: एसएसबी फ्रंटियर के आईजी संजय कुमार ने बताया कि संताल परगना में 15-20 नक्सलियों का दस्ता सक्रिय है। उन्होंने कहा कि नक्सली विचारधारा से भटके हुए ये लोग लेवी वसूल रहे हैं और विकास को बाधित कर रहे हैं। उन्होंने बताया कि संताल परगना से नक्सलियों को समाप्त करने के लिए एसएसबी और झारखंड पुलिस की स्मॉल एक्शन टीम बनाई गई है जिसमें 22 जवान हैं। एसएसबी फ्रंटियर के आईजी ने बयाया कि नक्सलियों को मार गिराने वाली इस टीम को पुरस्कृत किया जाएगा। अवार्ड के लिए अनुशंसा करेंगे।

नक्सलियों के विरुद्ध जारी रहेगा अभियान: एसपी

दुमका। दुमका के एसपी किशोर कौशल ने बताया कि ताला दा का सशस्त्र दस्ता जिले में सक्रिय है। कछुआकांदर में दस्ता का 10 से 15 नक्सली मौजूद था। एसपी ने कहा कि नक्सलियों के विरुद्ध संयुक्त अभियान जारी रहेगा। नक्सलियों को समाप्त किए बिना पुलिस चैन से नहीं रहेगी। एसपी ने बताया कि 2 नक्सलियों को मारने वाली टीम को कुल 2 लाख का इनाम देने की घोषणा डीजी ने की है। इसके अलावा अगर मारा गया नक्सली इनामी होगा तो वह राशि भी इस टीम को मिलेगी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Gopikandar continues against the Naxalites