DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

समय दें, अन्यथा करेंगे आत्मदाह

समय दें, अन्यथा करेंगे आत्मदाह

एशियन डेवलपमेंट बैंक के सहयोग से स्टेट हाईवे ऑथरिटी ऑफ झारखंड (साज) द्वारा दुमका—हंसडीहा फोरलेन सड़क निर्माण में किया जा रहा है। फोरलेन सड़क बनाने के लिए हंसडीहा बाजार के विस्थापितों को मुआवजे की रकम एवं मकान हटाने को लेकर गुरुवार को हंसडीहा थाना परिसर में एक बैठक हुई।

बैठक में प्रभावित रैयत व दुकानदारों के बीच भू-अर्जन पदाधिकारी शामिल हुए। हाईवे का निर्माण कर रही रोड निर्माण कंपनी के प्रशासनिक अधिकारी एके श्रीवास्तव ने बताया कि कुल तीन करोड़ 75 लाख रुपये रैयतों एवं दुकानदारों को जमीन एवं मकान का मुआवजा नियमानुसार दिया जा रहा है। साथ ही 80 प्रतिशत प्रतिशत लोगों के खाते में मुआवजे की राशि भेज दी गयी है।

जिन लोगों ने मुआवजा नहीं लिया है। वैसे लोगों को जिला भू—अर्जन कार्यालय जाकर अपने दस्तावेज जमा करें। दस्तावेज जमा करने के एक दिन बाद खाते में मुआवजे की राशि भेज दी जाएगी। कुछ रैयतों के द्वारा मुआवजे के बावजूद मकान खाली नहीं करने से प्रशासन काफी शख्त हो गई हैं। जिसके तहत पहले माइकिंग और अब ग्रामीणों के साथ बैठक के बाद अब जबरन बुलडोजर चलाने के मूड में दिख रही है। इसके तहत ही उपायुक्त के निर्देश पर जिला भू— अर्जन पदाधिकारी संजय पीएम कुजूर ने हंसडीहा थाना में बैठक कर रैयतों को 24 घंटे के अंदर अपने-अपने को मकान हटा लेने का निर्देश दिया, जिससे कुछ समय के लिए ग्रामीणों और पदाधिकारियों के बीच तनातनी की स्थिति उत्पन्न हो गई।

ग्रामीणों के अनुसार वे लोग अपने दुकान और मकान खाली करने के लिए तैयार है,लेकिन उन्हें कुछ महीनों का समय दिया जाय, ताकि वे लोग अन्यत्र शिफ्ट हो सकें, लेकिन उपस्थित पदाधिकारियों ने किसी भी हाल में अब समय न देने की बात कहीं। उनके अनुसार किसी भी हाल में इसी महीने इस सड़क परियोजना को पूरा करना है, फिर उसके बाद हंसडीहा चौराहे के सौंदर्यीकरण की योजना पर कार्य शुरू होगा। हंसडीहा थाना परिसर में बैठक के दौरान ही कुछ ग्रामीणों ने समय न मिलने पर आत्मदाह तक की बात कह डाली। शनिवार को हंसडीहा में बुलडोजर चलेगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Give time, otherwise will self-harm