DA Image
23 नवंबर, 2020|3:05|IST

अगली स्टोरी

दुमका की उपायुक्त ने खुद उठाया कुदाल और शुरू कर दिया पनसोखा कार्य दीदी बाड़ी योजना में 194 रुपए रोज है मजदूरी दर:उपायुक्त

दुमका की उपायुक्त ने खुद उठाया कुदाल और शुरू कर दिया पनसोखा कार्य  
दीदी बाड़ी योजना में 194 रुपए रोज है मजदूरी दर:उपायुक्त

1 / 338 दिनों का है कार्य दिवस, 7372 रुपए मजदूरी सीधे खाता में ट्रांसफर होगा ले मजदूरों को 194 रुपए प्रतिदिन के दर से मजदूरी मिलेगी। रविवार को जरमुंडी के रायकिनारी पंचायत के श्रीरामपुर गांव में दीदी बाड़ी...

दुमका की उपायुक्त ने खुद उठाया कुदाल और शुरू कर दिया पनसोखा कार्य  
दीदी बाड़ी योजना में 194 रुपए रोज है मजदूरी दर:उपायुक्त

2 / 338 दिनों का है कार्य दिवस, 7372 रुपए मजदूरी सीधे खाता में ट्रांसफर होगा ले मजदूरों को 194 रुपए प्रतिदिन के दर से मजदूरी मिलेगी। रविवार को जरमुंडी के रायकिनारी पंचायत के श्रीरामपुर गांव में दीदी बाड़ी...

दुमका की उपायुक्त ने खुद उठाया कुदाल और शुरू कर दिया पनसोखा कार्य  
दीदी बाड़ी योजना में 194 रुपए रोज है मजदूरी दर:उपायुक्त

3 / 338 दिनों का है कार्य दिवस, 7372 रुपए मजदूरी सीधे खाता में ट्रांसफर होगा ले मजदूरों को 194 रुपए प्रतिदिन के दर से मजदूरी मिलेगी। रविवार को जरमुंडी के रायकिनारी पंचायत के श्रीरामपुर गांव में दीदी बाड़ी...

PreviousNext

दुमका की उपायुक्त राजेश्वरी बी ने रविवार को खुद कुदाल उठाया और गांव में बनाए जाने वाले पनसोखा कार्य की शुरुआत की। डीसी ने कहा कि दीदी बाड़ी योजना में काम करने वाले मजदूरों को 194 रुपए प्रतिदिन के दर से मजदूरी मिलेगी। इस योजना का कार्य दिवस 38 दिनों का होगा। इस योजना में कार्य करने वाले मजदूर को मजदूरी ₹194 प्रतिदिन के दर से कुल 38 दिनों में 7372 रुपए मजदूरी दिए जाएंगे। उन्होंने कहा कि यह राशि आप लाभुकों के अकाउंट में सीधा ट्रांसफर किया जाएगा।

उपायुक्त ने लोगों से इस योजना का लाभ लेने की अपील करते हुए कहा कि इस योजना का उपयोग करते हुए फसल का उपज करें। फसल की उपज से अपने और अपने परिवार की आर्थिक स्थिति को मजबूत करें। इस योजना के तहत फसल से संबंधित आप सभी को ट्रेनिंग दी जाएगी। उपायुक्त ने कहा कि इस योजना के तहत आपको खाद एवं बीज उपलब्ध करा दिया जाएगा। उन्होंने बीडीओ को निर्देश दिया कि जो भी इच्छुक व्यक्ति इस योजना से जुड़ना चाहता है,उसकी सूची तैयार करें एवं मुख्यालय को उपलब्ध कराएं। बता दें दुमका जिला में 22 हजार परिवारों को दीदी बाड़ी योजना का लाभ दिया जाना है। मनरेगा बीपीओ एवं जेई को निर्देश दिया कि सभी कार्य को समय पर पूरा करें। उन्होंने पंचायत के मुखिया एवं ग्राम पंचायत समिति को निर्देश दिया कि 14वें वित्त के तहत खराब पड़े चापानल को मरम्मत कराएं। नए चापाकल भी लगवाएं। इस अवसर पर अनुमंडल पदाधिकारी महेश्वर महतो भी उपस्थित थे।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Deputy Commissioner of Dumka himself picked up a spade and started pansokha work in Didi Bari scheme at 194 rupees daily wage rate Deputy Commissioner