DA Image
1 अगस्त, 2020|4:15|IST

अगली स्टोरी

बासुकीनाथ: सावन माह का 26वां दिन बीता, कारोबारी निराश

बासुकीनाथ: सावन माह का 26वां दिन बीता, कारोबारी निराश

सावन का पवित्र महीना इस वर्ष कांवरिया भक्तों के बिना कोरा ही गुजरने वाला है। सावन के 26 दिन बीत चुके हैं,पर इस वर्ष सावन के पवित्र महीने में बाबा बासुकीनाथ का आध्यात्मिक कैनवास कांवरिया भक्तों के गेरुआ रंगों के बिना कोरा ही रह गया। हर साल फौजदारी बाबा के धाम में इठलाता सावन का महीना कांवरियों के वेशभूषा से केसरिया और गेरुआमय हो जाता था। 2020 के सावन ने फौजदारी धाम के निवासियों और कांवरिया भक्तों को निराश रखा। पवित्र सावन का महीना, अब महज 3 दिनों का ही शेष रह गया है।

इस वर्ष 2020 का सावन ना तो बासुकीनाथ के छोटे-मोटे कारोबारी दुकानदारों के लिए संभावनाओं का सावन बन सका और ना भक्ति तथा आस्था के दृष्टिकोण से ही परवान चढ़ सका। वर्ष 2020 का सावन महीना प्रतिबंधों को लेकर जाना जाएगा। राजकीय श्रावणी मेला के इतिहास में काला अध्याय बनकर दर्ज हो चुका है। इस वर्ष का सावन स्थानीय छोटे बड़े कारोबारियों और जरूरतमंद दुकानदारों के लिए सन्नाटा बिखेर कर अलविदा कहने जा रहा है। श्रावणी मेला के दौरान बासुकीनाथ मेला क्षेत्र और आसपास के इलाकों के निवासी श्रावणी मेला में कारोबार करने को लेकर मेघ मल्हार का राग अलापते अघाते नहीं थे। किंतु सावन ने तो जैसे लोगों की हंसी ही छीन ली है। हर साल अमृत के समान बरसने वाला सावन बासुकीनाथ की धरती पर जैसे इस वर्ष बरसा ही नहीं। प्यासी धरती में दाना पानी का जुगाड़ हुआ ही नहीं। रूठा सावन सबको प्यासा छोड़ कर अब अलविदा कहने ही वाला है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Basukinath 26th day of Savan month passed businessmen disappointed