DA Image
22 सितम्बर, 2020|7:23|IST

अगली स्टोरी

पूरे शहर में जलापूर्ति ठप, चार लाख लोग पानी को तरसे

पूरे शहर में जलापूर्ति ठप, चार लाख लोग पानी को तरसे

पूरे शहर में सोमवार को जलापूर्ति ठप रही। इससे चार लाख लोग दिनभर पानी के लिए तरस गए। सबसे अधिक परेशानी धनसार और स्टीलगेट क्षेत्र में देखने को मिला। यहां लगातार दूसरे दिन भी पानी नहीं मिला। इससे लोगों की परेशानी बढ़ गई है। लोगों को पानी खरीदना पड़ा। अधिकांश लोग पानी के लिए चापाकल पर जुटे।

बता दें कि वाटर ट्रीटमेंट प्लांट में ट्रासंफॉर्मर का सिटी ब्लास्ट कर गया था। इसकी रिपेयरिंग के लिए जलापूर्ति ठप करनी पड़ी। विभाग का कहना है कि खराबी दूर कर ली गई है। मंगलवार को सभी 19 जलमीनारों से जलापूर्ति कर दी जाएगी। बता दें कि मैथन से धनबाद वाटर ट्रीटमेंट प्लांट तक रॉ वाटर आता है। यहां से शहर में पानी सप्लाई होती है।

चार माह पूर्व लगा था नया ट्रासंफॉर्मर

चार माह पूर्व 7.5 एमवीए का नया ट्रासंफॉर्मर वाटर ट्रीटमेंट प्लांट में लगाया था। इतनी जल्दी खराबी आने से विभाग में चर्चा का विषय बना हुआ है। हालांकि ट्रांसफॉर्मर का सिटी ब्लास्ट बिजली वोल्टेज कम या अधिक होने से होता है। काशीटांड़ पावर सब स्टेशन से सीधे 11 केवीए की एक लाइन निकाली गई, जिससे प्लांट में बिजली आपूर्ति होती है।

रिपयेरिंग में लगे 13 घंटे

रविवार की रात 11 बजे से ही टांसफॉर्मर के सिटी की रिपेयरिंग का काम शुरू हो गया था, जो सोमवार को दोपहर 12 बजे तक चला। विभाग ने मोटर चलाकर ट्रायल किया जो सफल रहा। दोपहर दो बजे के बाद मैथन से धनबाद प्लांट तक रॉ वाटर आने लगा। लेकिन सभी जलमीनार में भरने में चार-पांच घंटे लगेंगे। इसके बाद ही जलापूर्ति की जाएगी।

ट्रांसफॉर्मर में लगे सिटी की रिपेयरिंग कर दी गई है। मंगलवार को अधिक से अधिक जलमीनार से जलापूर्ति की जाएगी।

- राहुत प्रियदर्शी, सहायक अभियंता

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Water supply stalled in the entire city four lakh people yearn for water