DA Image
10 अगस्त, 2020|8:59|IST

अगली स्टोरी

सरायढेला में जमीन विवाद को लेकर दो पक्षों में मारपीट

default image

जमीन विवाद को लेकर सरायढेला में दो पक्षों के बीच मारपीट हो गई। मारपीट में बेकारबांध ग्रेवाल कॉलोनी निवासी रामेश्वर प्रसाद सिंह और उनका पुत्र अंकित कुमार घायल हो गए। दोनों को पीएमसीएच में भर्ती कराया गया है । इधर मामले में दोनों पक्षों की शिकायत पर सरायढेला थाने में एफआईआर दर्ज की गई है।

रामेश्वर ने पुलिस को दिए बयान में बताया कि सरायढेला स्थित मौजा नंबर आठ में 8.44 डिसमिल प्लॉट मेरे भाई त्रिभुवन सिंह के पुत्र अमन सिंह के नाम से रजिस्ट्री है। इस जमीन पर पहले से बाउंड्री की गई थी। लेकिन महतो टोला के शंकर किशोर महतो एवं उनके परिजनों ने बाउंड्री तोड़ दी। बाउंड्री के पुनः निर्माण के लिए पुत्र अंकित कुमार, भतीजा अमन सिंह और मैं खुद पहुंचा था। निर्माण कार्य चल ही रहा था कि उसी समय शंकर किशोर महतो, उसका भांजा नितिन महतो, संजय महतो, शंकर किशोर की बहन एवं पांच अज्ञात महिला पुरुष हरवे-हथियार से लैस होकर आए और आते ही काम बंद करने की धमकी दी। रामेश्वर ने बताया कि काम करने के एवज में 10 लाख रुपए की मांग की गई। विरोध करने पर गाली-गलौज करते हुए मारपीट शुरू कर दी। लोहे के रॉड से कंधे पर और सिर पर वार किया गया। इससे उनका सिर फट गया। बीच-बचाव करने आए अंकित के साथ भी मारपीट की गई। इसी दौरान सूचना पाकर पुलिस पहुंच गई। पुलिस को देखते ही मारपीट कर रहे सभी आरोपी भाग निकले। पुलिस की मदद से ही उन्हें पीएमसीएच में भर्ती कराया गया।

वहीं दूसरी तरफ सरायढेला महतो टोला निवासी शंकर किशोर महतो ने पुलिस को दी शिकायत में बताया कि उनके घर के बगल में ही उनकी जमीन है। जिसे त्रिभुवन सिंह, अमन सिंह, रामेश्वर सिंह, दीप देसाई, अंकित कुमार सहित 40-50 अन्य लोग जमीन पर कब्जा करने की नियत से बाउंड्री करा रहे थे। मुझे देखते ही भीड़ में से एक ने चिल्लाते हुए कहा कि यही शंकर किशोर महतो है, इसे मारो। उनकी मंशा भांपकर मैं वापस घर भाग गया। लेकिन उनका पीछा करते हुए त्रिभुवन सिंह और उनका पुत्र अमन सिंह रॉड लेकर घर के अंदर घुस गए। अंदर घुसते ही हमला बोल दिया। बीच-बचाव करने आए मेरे भाई संजय कुमार महतो के साथ भी बुरी तरह मारपीट की गई। बहन के साथ छेड़खानी भी की। हो-हंगामा सुनकर आसपास के लोग जुड़ गए। जब काफी संख्या में लोग जुटे तो सभी वहां से भाग गए। इस दौरान वहां पहुंची पुलिस ने मुझे और मेरे पुत्र को उठा कर थाने ले आई। शंकर किशोर महतो ने बताया कि प्लॉट में इनके साथ विवाद चल रहा है। टाइटल सूट न्यायालय में लंबित है। फिर भी जबरन निर्माण कार्य किया जा रहा है। पुलिस ने दोनों ही शिकायतों पर सरायढेला थाने में विभिन्न धाराओं में केस दर्ज किया है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Two parties fight over land dispute in Saraidhela