DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बस स्टैंड बोकारोवासियों का है इसे कहीं नहीं जाने देंगे: समरेश सिंह

किसी भी परिस्थिति में बस पड़ाव को नया मोड़ हटने नहीं दिया जाएगा। नया मोड़ बस पड़ाव बोकारो जिले का एकलौता बस स्टैंड है। यहां से बहुत लोगों का रोजगार जुड़ा हुआ है। यह बस स्टैंड शहर के बीचों-बीच में बसा हुआ है। यहां से सभी लोगों को आने-जाने में आसानी होती है। बस स्टैंड बोकारो के लोगों का है किसी भी कीमत पर इसे नया मोड़ से कहीं नहीं जाने दिया जाएगा। यह बात बस पड़ाव नया मोड़ से हटाने के विरोध में पूर्व मंत्री समरेश सिंह ने नया मोड़ समीप आमसभा को संबोधित करते हुए कहीं। इस्पात कर्मियों व बोकारो के लोगों की सुविधा के लिए शहर के बीचों-बीच एक बस स्टैंड सारी सुविधाओं से युक्त आम जनता को दिया गया है। यहां से छोटे-बड़े वाहन झारखण्ड, बिहार, बंगाल व अन्य शहरों के लिए खुलती है। जिससे यहां से सैकड़ो बेरोजगारों की रोजी-रोटी जुड़ी है। कहा कि नया मोड़ से डीसी कार्यालय, कोर्ट-कचहरी, रेलवे स्टेशन, बीजीएच, सिटी सेन्टर व सभी सेक्टर नजदीक में बसी हुई है। इससे रात्रि में भी आवागम में कोई परेशानी नहीं होती है। नया मोड़ बस स्टैंड पर बस मालिक वर्ष1996 से पड़ाव शुल्क देते आ रहें है। प्रत्येक दिन हजारों यात्रियों को सुविधा प्रदान होती है। इस अवसर पर गोपाल प्रसाद वर्मा, शिव शंकर सिंह, गजेन्द्र सिंह, प्रभुनाथ सिंह, जनार्दन सिंह, त्रिवेणी सिंह, पप्पू सिंह, बीर सिह, भोलू अंसारी, इलियास अंसारी, फारूख, फैयाज सहित अन्य लोग उपस्थित थे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:The bus stand of Bokaroos will not let it go anywhere: Samaresh Singh