DA Image
9 अगस्त, 2020|5:44|IST

अगली स्टोरी

वर्षगांठ महोत्सव पर मंत्रोच्चार से गूंजा शक्ति मंदिर

वर्षगांठ महोत्सव पर मंत्रोच्चार से गूंजा शक्ति मंदिर

1 / 2शक्ति मंदिर के 23वें वर्षगांठ महोत्सव की शुरुआत विघ्नहर्ता भगवान गधेश की पूजा अर्चना से हुई। 1008 दूर्वा से गणेश जी का अभिषेक किया गया। इसके बाद सभी प्रतिमाओं का शुद्धिकरण कर विधिवत शृंगार किया...

वर्षगांठ महोत्सव पर मंत्रोच्चार से गूंजा शक्ति मंदिर

2 / 2शक्ति मंदिर के 23वें वर्षगांठ महोत्सव की शुरुआत विघ्नहर्ता भगवान गधेश की पूजा अर्चना से हुई। 1008 दूर्वा से गणेश जी का अभिषेक किया गया। इसके बाद सभी प्रतिमाओं का शुद्धिकरण कर विधिवत शृंगार किया...

PreviousNext

शक्ति मंदिर के 23वें वर्षगांठ महोत्सव की शुरुआत विघ्नहर्ता भगवान गधेश की पूजा अर्चना से हुई। 1008 दूर्वा से गणेश जी का अभिषेक किया गया। इसके बाद सभी प्रतिमाओं का शुद्धिकरण कर विधिवत शृंगार किया गया। संध्या में 1008 नाम से गणेशजी का हवन किया गया। तत्पश्चात भजन कीर्तन और आरती की गई। इस दौरान पूरा मंदिर परिसर मंत्रोच्चार से गुंजायमान हो उठा। प्राण प्रतिष्ठा महोत्सव के पहले दिन काफी संख्या में श्रद्धालु पहुंचे। अनुष्ठान में राकेश आनंद एवं उनकी पत्नी मुख्य यजमान के रूप में शामिल हुए। 15 से लेकर 18 फरवरी तीन दिनों तक लगातार हवन व पूजन का आयोजन होगा। सुबह नौ बजे से साढ़े 11 बजे तक पूजन होगा। संध्या तीन बजे से लेकर पांच बजे तक हवन का कार्यक्रम हो रहा है। प्रतिदिन अलग-अलग यजमान अनुष्ठान में शामिल होंगे। मंदिर कमिटी के सदस्यों ने बताया कि 19 फरवरी को शक्ति मंदिर से विशाल प्रभातफेरी निकाली जाएगी। 20 को महाभंडारे का आयोजन होगा।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Shakti temple resonated with chant on Anniversary Festival