DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

गंगा दामोदर में एक 3एसी व लुधियाना में बढ़े दो स्लीपर

धनबाद से खुलने वाली ट्रेनों पर रेलवे मेहरबान है। रेलवे ने एक साथ दो ट्रेनों को तीन अतिरिक्त बोगियों की सौगात दी है। 31 मई से गंगा- दामोदर में एक थर्ड एसी और धनबाद-फिरोजपुर लुधियाना गंगा- सतलज एक्सप्रेस में दो स्लीपर बोगी जोड़ने की घोषणा की गई है। स्थायी तौर पर ट्रेनों में बोगी बढ़ाने का इंतजाम किया गया है।

15 अप्रैल से गंगा सतलज एक्सप्रेस कंवेंशनल की जगह एलएचबी कोच के साथ चल रही है। एलएचबी कोच जुड़ते ही ट्रेन की आठ स्लीपर बोगियों में 64 सीटों की बढ़ोतरी हुई थी। फिलहाल लुधियाना एक्सप्रेस आठ स्लीपर बोगियों सहित 17 बोगियों के साथ चल रही है। गुरुवार से ट्रेन में दो अतिरिक्त स्लीपर बोगियां जुड़ जाएंगी और कोच की संख्या बढ़ कर 19 हो जाएगी। बोगी बढ़ने से ट्रेन में 160 स्लीपर बर्थ बढ़ जाएंगे। इसी तरह अब गंगा-दामोदर एक्सप्रेस में एक थर्ड एसी की जगह दो थर्ड एसी बोगियां होंगी। एक स्थायी थर्ड एसी कोच बढ़ने से 64 यात्रियों को अधिक बर्थ दिया जा सकेगा। रेलवे इस ट्रेन में एक स्लीपर बोगी बढ़ाने के प्रयास में है। गंगा दामोदर की रेक से ही सुबह में धनबाद-पटना एक्सप्रेस चलती है, लिहाजा सुबह वाली ट्रेन में भी एक थर्ड एसी बोगी का इजाफा हो जाएगा।

उत्तर बिहार के लिए नई ट्रेन ठंडे बस्ते में

गंगा- दामोदर और गंगा सतलज एक्सप्रेस में बोगियों की बढ़ोतरी से निश्चित तौर पर यात्रियों को फायदा होगा, लेकिन धनबाद से छीनी गई उत्तर बिहार की तीन ट्रेनों और भागलपुर की दो ट्रेनों के बदले रेलवे ने कोई वैकल्पिक इंतजाम अभी तक नहीं किया है। 15 जून 2017 को बंद हुई डीसी लाइन के बाद से इन रूटों पर धनबाद से एक भी ट्रेन नहीं चल रही है। पिछले दिनों धनबाद से जयनगर के बीच ट्रेन चलाने का प्रयास किया गया, लेकिन हाल के दिनों में यह प्रस्ताव ठंडे बस्ते में चला गया है।

नई ट्रेन मिलने तक मौर्य एक्सप्रेस में बढ़े कोच

धनबाद के यात्री लगातार यह मांग उठाते रहे हैं कि जब तक उत्तर बिहार के लिए धनबाद से कोई ट्रेन नहीं चलती तब तक हटिया-गोरखपुर मौर्य एक्सप्रेस में ही कोचों की संख्या बढ़ाई जाय। फिलहाल मौर्य एक्सप्रेस में मात्र 19 कोच हैं, इसमें स्लीपर बोगियों की संख्या मात्र छह है। इस ट्रेन में एक स्लीपर कोच बढ़ाने की गुंजाइश है। कोच बढ़ाकर मौर्य एक्सप्रेस में धनबाद का अलग से कोटा तय होना चाहिए।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: one 3 AC in Ganga Damodar and two sleepers increased in Ludhiana