DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   झारखंड  ›  धनबाद  ›  दूसरे दिन आधे शहर को ही मिला मैथन का पानी

धनबाददूसरे दिन आधे शहर को ही मिला मैथन का पानी

हिन्दुस्तान टीम,धनबादPublished By: Newswrap
Wed, 26 Aug 2020 03:34 AM
मैथन इंटेकवेल में वॉल्व बदलने का काम मंगलवार को पूरा हो गया। इस काम के पूरा होने के बाद दोपहर से शहर के लिए पानी खोला...
1 / 3मैथन इंटेकवेल में वॉल्व बदलने का काम मंगलवार को पूरा हो गया। इस काम के पूरा होने के बाद दोपहर से शहर के लिए पानी खोला...
मैथन इंटेकवेल में वॉल्व बदलने का काम मंगलवार को पूरा हो गया। इस काम के पूरा होने के बाद दोपहर से शहर के लिए पानी खोला...
2 / 3मैथन इंटेकवेल में वॉल्व बदलने का काम मंगलवार को पूरा हो गया। इस काम के पूरा होने के बाद दोपहर से शहर के लिए पानी खोला...
मैथन इंटेकवेल में वॉल्व बदलने का काम मंगलवार को पूरा हो गया। इस काम के पूरा होने के बाद दोपहर से शहर के लिए पानी खोला...
3 / 3मैथन इंटेकवेल में वॉल्व बदलने का काम मंगलवार को पूरा हो गया। इस काम के पूरा होने के बाद दोपहर से शहर के लिए पानी खोला...

मैथन इंटेकवेल में वॉल्व बदलने का काम मंगलवार को पूरा हो गया। इस काम के पूरा होने के बाद दोपहर से शहर के लिए पानी खोला गया। नतीजा शाम तक आधे शहर में ही जलापूर्ति हो पाई। लगभग तीन लाख आबादी को लगातार दूसरे दिन पानी नहीं मिला। अधिकारियों के अनुसार बुधवार से शहर में जलापूर्ति सामान्य हो जाएगी।

बता दें कि मैथन इंटेकवेल में लगे वॉल्व को बदला जा रहा था। पेयजल एवं स्वच्छता विभाग ने इसके लिए मंगलवार को शहर में जलापूर्ति नहीं करने की पूर्व घोषणा की थी। एक दिन में वॉल्व बदलने का काम पूरा नहीं हो सका। अधिकारियों के अनुसार मंगलवार की सुबह काम समाप्त हुआ। उसके बाद मैथन से शहर के लिए पानी छोड़ा गया। भेलाटांड़ वाटर ट्रीटमेंट प्लांट में पानी साफ होने के बाद दोपहर 12.30 बजे के बाद शहर में जलापूर्ति शुरू हुई। रात तक शहर के सात वाटर टावर तक ही पानी पहुंच पाया था। 12 वाटर टावर में पानी नहीं पहुंचा। इसके कारण कई इलाकों में जलापूर्ति नहीं हो सकी। इन टावरों में पानी नहीं आने से लगभग तीन लाख की आबादी को दूसरे दिन भी प्यासा रहना पड़ा। पेयजल एवं स्वच्छता विभाग के एसडीओ राहुल प्रियदर्शी के अनुसार बुधवार की सुबह से जलापूर्ति सामान्य हो जाएगी।

इन इलाकों को मिला पानी

गोल्फ ग्राउंड, धोवाटांड़, हीरापुर, मेमको, भूली, हिल कॉलोनी और पीएमसीएच

यहां नहीं हुई आपूर्ति

पुराना बाजार, मनईटांड़, मटकुरिया, गांधीनगर, भुदा, बरमसिया, धनसार, वासेपुर, स्टील गेट, चीरागोरा, पॉलिटेक्निक।

संबंधित खबरें