DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सर्किट हाउस में हुआ सरकारी अधिकारियों का कब्जा

सरकार के आदेश को सरकारी अधिकारी ही ठेगा दिखा रहें है। शहर के सर्किट हाउस में इन दिनों सरकारी अधिकारियों की खूब मनमानी चल रही है। जिस सर्किट हाउस में गेस्ट को ठहरने के लिए तीन दिन के लिए कमरा दिया जाता है। वहीं सरकारी अधिकारियों द्वारा सर्किट हाउस के कमरों में महिनों-महिनों से रह रहें है। एक ओर जहां इतने दिन सर्किट हाउस के कमरों में रहने का परमीशन नहीं होता है। वहीं कमरों का किराया भी नहीं दिया जाता है। जिससे राजस्व को हर रोज 2 हजार रुपए का चुना लगाया जा रहा है। पांच कमरों में सरकारी अधिकारियों ने बनाया निवास स्थानइन दिनों सर्किट हाउस के 5 कमरे सरकारी अधिकारियों के कब्जे में है। जिसके एक कमरे में1 अप्रैल से हेड क्वाटर डीएसपी पूनम मिंज रह रहीं है। जबकी करीब 1 साल से प्रशिक्षु डीप्टी कलेक्टर पल्लवी सिन्हा व उषा मिंज रह रहीं है। वहीं 4 मई से एलआर डीसी सुनिल कुमार रह रहें है। और करीब डेढ़ महिने से डीएमओ गोपाल कुमार दास रह रहें है। वहीं 20 मई से स्वच्छ भारत मिशन की मैथली गांगुली रहती है। सर्किट हाउस कुल 15 कमरेसर्किट हाउस से जानकारी के अनुसार सर्किट हाउस कुल 15 कमरे हैं। जिसमें से 5 कमरें सरकारी अधिकारियों द्वारा कब्जा कर लिया गया है। और 2 कमरे इम्पॉटेंट पर्सन के लिए हमेशा खाली रखा जाता है। अब सर्किट हाउस में 8 कमरे बचे हुए है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Occupation of government officials held at Circuit House