DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

अब स्कूल में बिकेगी एनसीईआरटी किताबें व स्टेशनरी

अब सीबीएसई मान्यता प्राप्त स्कूलों के परिसर में एनसीईआरटी किताबें व स्टेशनरी बिकेंगी। इसके लिए परिसर में एक दुकान खोली जाएगी। एनसीईआरटी किताबों की किल्लत दूर करने व छात्रों को समय पर किताबें उपलब्ध कराने के उद्देश्य से सीबीएसई ने स्कूलों को यह आदेश जारी कर दिया है। उप सचिव सम्बद्धता के श्रीनिवासन के स्तर से आदेश जारी किया गया है। धनबाद में लगभग 50 स्कूल सीबीएसई से मान्यता प्राप्त है। जानकारों का कहना है कि सीबीएसई स्कूल एनसीईआरटी किताबों के साथ स्टेशनरी समेत अन्य सामग्री की भी बिक्री कर सकेंगे। बोर्ड ने कहा है कि सीबीएसई स्कूलों को सत्र 2018-19 के लिए किताबें मुहैया कराई जाएगी। स्कूल वेबसाइट के माध्यम से छात्रों की संख्या के अनुसार किताबों की मांग करेंगे। 9 सितंबर तक किताबों की संख्या बतानी होगी। सीबीएसई का सर्कुलर जारी होने के बाद स्कूलों ने छात्रों की संख्या के आधार पर किताबों का आकलन करना शुरू कर दिया है। स्कूलों का कहना है कि हमलोग जल्द ही बोर्ड को ई मेल के माध्यम से सूचना देंगे। - पीएमओ को लिखेंगे पत्र : अभिभावक संघ सीबीएसई के इस आदेश का अभिभावक संघ ने विरोध किया है। झारखंड अभिभावक महासंघ के सचिव मनोज मिश्रा का कहना है कि एक तरह से पिछले दरवाजे से व्यवसायीकरण किया जा रहा है। एनसीईआरटी किताबों की आड़ में दूसरे पब्लिकेशन की किताबें भी बेची जाएगी। हमलोग पूरे मामले की शिकायत पीएमओ से करेंगे। सीबीएसई ने कई सर्कुलर जारी किया। लेकिन नियंत्रित नहीं हो पाया। अब परिसर में स्टेशनरी व एनसीईआरटी किताबें बेचने के लिए दुकान खोलने को मंजूरी दे दी। यह गलत है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:NCERT books and stationery will be sold at school