ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News झारखंड धनबादओपीडी में आए 250 से अधिक मरीज बिना इलाज के लौटे

ओपीडी में आए 250 से अधिक मरीज बिना इलाज के लौटे

धनबाद मेडिकल कॉलेज अस्पताल (एसएनएमएमसीएच) के ओपीडी में इलाज के लिए बुधवार को आए मरीजों को काफी परेशानी झेलनी...

ओपीडी में आए 250 से अधिक मरीज बिना इलाज के लौटे
हिन्दुस्तान टीम,धनबादThu, 29 Feb 2024 01:31 AM
ऐप पर पढ़ें

धनबाद, वरीय संवाददाता
धनबाद मेडिकल कॉलेज अस्पताल (एसएनएमएमसीएच) के ओपीडी में इलाज के लिए बुधवार को आए मरीजों को काफी परेशानी झेलनी पड़ी। बीएसएनएल का सर्वर डाउन रहने के कारण यहां ओपीडी का ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन ठप रहा। इसके कारण 250 से अधिक मरीजों को बिना इलाज के लौटना पड़ा। शाम तक मैनुअली 650 के आसपास मरीजों का ही रिजस्ट्रेशन हो सका। हर बुधवार को यहां औसतन 900 मरीजों का रजिस्ट्रेशन होता है।

बता दें कि ओपीडी का रजिस्ट्रेशन काउंटर अपने निर्धारित समय सुबह 8 बजे खुल गया था। मरीज भी पहुंचने लगे थे, लेकिन यहां रजिस्ट्रेशन का सॉफ्टवेयर काम नहीं कर रहा था। एनआईसी से संपर्क किया गया। बताया गया कि लिंक में कोई गड़बड़ी नहीं है। दूसरे अस्पतालों में काम हो रहा था। इसके बाद बीएसएनएल से संपर्क किया गया। जब पता चला कि बीएसएनएल का सर्वर डाउन होने के कारण नेट काम नहीं कर रहा है। इसके कारण कंप्यूटराइज्ड ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन नहीं हो रहा है। इसके ठीक होने के आसार भी नहीं थे। तब तक सभी काउंटरों पर लंबी-लंबी कतार लग चुकी थी। प्रबंधन के निर्देश पर हाथ से पर्ची भरकर लोगों को दी जाने लगी। इसको लेकर लोग डॉक्टर के पास जा रहे थे और इलाज करवा रहे थे। इसमें काफी समय लग रहा था। नतीजा कई लोग कतार में ही खड़े रह गए। उनका रजिस्ट्रेशन नहीं हो सका। उन्हें बिना इलाज के वापस लौटना पड़ा।

एक रजिस्ट्रेशन में लग रहा था तिगुना समय

ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन की तुलना हाथ से पर्ची बनाने में तिगुना से अधिक समय लग रहा था। ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन में एक मिनट में दो-तीन पर्ची निकल जाती है। हाथ से एक मिनट में मुश्किल से एक पर्ची बन रही थी। इसके कारण कतार लंबी होती चली गई।

कई बार हुआ हंगामा

रजिस्ट्रेशन में देरी के कारण कतार में खड़े मरीज परेशान हो रहे थे। इससे लोग आक्रोशित होकर हंगामा भी कर रहे थे। अस्पताल कर्मी और वहां तैनात होमगार्ड के जवान किसी तरह समझा-बुझाकर लोगों को पूरे दिन शांत कराते रहे।

आज भी समस्या बरकरार रहने के आसार

ओपीडी रजिस्ट्रेशन में यह समस्या गुरुवार को भी बरकरार रहने की आशंका है। अस्पताल के अधिकारियों ने इसके समाधान को लेकर बीएसएनएल के अधिकारियों से संपर्क किया था। बीएसएनएल के अधिकारियों ने पीएम के कार्यक्रम की व्यस्तता का हवाला देकर नेट ठीक करने में असमर्थता जता दी थी। शाम तक नेट चालू नहीं हुआ था।

यह हिन्दुस्तान अखबार की ऑटेमेटेड न्यूज फीड है, इसे लाइव हिन्दुस्तान की टीम ने संपादित नहीं किया है।
हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें