ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News झारखंड धनबादमहुदा में पांच साल की बेटी के साथ फंदे से लटकी मिली विवाहिता

महुदा में पांच साल की बेटी के साथ फंदे से लटकी मिली विवाहिता

महुदा थाना क्षेत्र के सिंगड़ा बस्ती निवासी गुलाम रसूल अंसारी की तीसरी पुत्री तब्बसुम परवीन (26 वर्ष) एवं तब्बसुम की पुत्री शीफा परवीन (5 वर्ष) का शव...

महुदा में पांच साल की बेटी के साथ फंदे से लटकी मिली विवाहिता
हिन्दुस्तान टीम,धनबादTue, 14 Nov 2023 03:15 AM
ऐप पर पढ़ें

महुदा (कतरास), प्रतिनिधि
महुदा थाना क्षेत्र के सिंगड़ा बस्ती निवासी गुलाम रसूल अंसारी की तीसरी पुत्री तब्बसुम परवीन (26 वर्ष) एवं तब्बसुम की पुत्री शीफा परवीन (5 वर्ष) का शव रविवार की सुबह उसके कमरे में फांसी के फंदे से लटकता मिला। तब्बसुम के पिता ने दोनों को फंदे की रस्सी काटकर उतारा। तब तक दोनों की मौत हो चुकी थी। परिजनों ने घटना की सूचना महुदा पुलिस को दी। सूचना पाकर महुदा पुलिस घटनास्थल पहुंची तथा पंचनामा के बाद शव को पोस्टमार्टम के लिए धनबाद भेज दिया। पोस्टमार्टम के बाद सोमवार की शाम मां-बेटी का शव सिंघड़ा स्थित घर लाया गया। दोनों को शव को सिंघड़ा बस्ती स्थित कब्रिस्तान में सुपुर्द-ए-खाक कर दिया गया।

तब्बसुम का निकाह सात साल पहले पुरुलिया जिले की डीमडीहा बस्ती में हुआ था। दो साल से वह मायके में रह रही थी। पति उसे लेने नहीं आया था। इसके पहले उसका पहला निकाह पाथरडीह में हुआ था, जहां से एक साल के बाद उसका तलाक हो गया था। मृतका चार बहनों में तीसरे नंबर पर थी। उसके दो भाई भी हैं।

घटना के संबंध में मृतका के पिता गुलाम रसूल अंसारी ने बताया कि सुबह करीब पांच बजे वह नमाज पढ़ने के लिए मस्जिद चले गए थे। करीब एक घंटा बाद जब वह वापस घर लौटे तो देखा कि पुत्री तब्बसुम परवीन एवं नतनी अपने कमरे में ही थी और अंदर से कुंडी बंद थी। उन्होंने कई बार पुकारा परंतु कोई आवाज नहीं आई तो उनके पुत्र ने खिड़की के अंदर से झांक कर देखा और स्तब्ध रह गया। तब्बसुम और उसकी बेटी रस्सी के सहारे फांसी पर लटकी हुई थी। रस्सी काटकर दोनों को नीचे उतारा गया। काफी देर हो जाने के कारण दोनों की मौत हो चुकी थी। घटना क्यों और कैसे हुई, इसकी जानकारी उन्हें नहीं है। सूचना पाकर घटनास्थल पहुंचे महुदा थाना के एएसआई महेंद्र राम ने पंचनामा कर शव को पोस्टमार्टम के लिए धनबाद भेज दिया। इस संबंध में एएसआई ने बताया कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही कुछ जानकारी मिल सकती है।

यह हिन्दुस्तान अखबार की ऑटेमेटेड न्यूज फीड है, इसे लाइव हिन्दुस्तान की टीम ने संपादित नहीं किया है।