DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   झारखंड  ›  धनबाद  ›  धनबाद में प्रेमी जोड़ों को कोरोना का खौफ नहीं
धनबाद

धनबाद में प्रेमी जोड़ों को कोरोना का खौफ नहीं

हिन्दुस्तान टीम,धनबादPublished By: Newswrap
Mon, 14 Jun 2021 04:31 AM
धनबाद में प्रेमी जोड़ों को कोरोना का खौफ नहीं

धनबाद रविकांत झा

हर तरफ कोरोना की चर्चा और खौफ है। दूसरी लहर ढलान पर है तो तीसरी लहर की आशंका ने लोगों की नींद उड़ा रखी है। इस विषम परिस्थिति में भी प्यार के पंछियों में किसी प्रकार का कोई भय नहीं है। हर दिन महिला थाना में प्रेमी युगल शादी रचा कर पहुंच रहे हैं। लॉकडाउन में प्रेमी-प्रेमिका के ननिहाल में प्यार खूब परवान चढ़ रहा है। प्रेम दिवाने घरवालों से बगावत पर उतर आए हैं।

लॉकडाउन में प्रेम विवाह के मामलों में अचानक बढ़ोतरी हो गई है। हाल के दिनों में महिला थाना तक पहुंचने वाले ज्यादातर मामलों में एक समानता देखी जा रही है। ननिहाल प्रेमी और प्रमिका के बीच ‘पहली नजर में प्यार का ठिकाना बन गया है। थाने पहुंच रहे प्रेमी युगल पुलिस को बताया रहे हैं कि पहली मुलाकात उनके (प्रेमी या प्रेमिका) ननिहाल में हुई थी। चिंता की बात तो यह है कि शादी करके थाने पहुंचने वाले ज्यादातर प्रेमी-प्रेमिका की उम्र 18 से 22 वर्ष के बीच रह रही है। करियर और रोजगार की फिक्र को छोड़ जोड़े शादी को तवज्जो दे रहे हैं।

ननिहाल में पहली नजर का प्यार

केस स्टडी 1 : बाबूडीह की एक युवती का गिरिडीह में ननिहाल है। वह 29 मई को घर पर बिना कुछ कहे निकल गई थी। छह जून को धनबाद पुलिस ने उसे और उसके प्रेमी कलाम को गिरिडीह से बरामद किया। युवती ने बताया कि गिरिडीह में उसका ननिहाल है। वहीं उसकी दोस्ती कलाम से हुई थी। बाद में दोनों शादी करने की ठान ली।

केस स्टडी 2 : तोपचांची से कविता नामक युवती 24 मई से लापता थी। वह अपने प्रेमी अर्जुन प्रजापति के साथ इलाहाबाद चली गई थी। बाद में दोनों मुंबई गए। मुंबई में ही युवती ने अर्जुन से शादी रचाई। सात जून को दोनों प्रेमी-प्रेमिका महिला थाना पहुंचे। अर्जुन का नानी घर तोपचांची में है। यहां वह पढ़ने आया था।

केस स्टडी 3 : सिंदरी में मेडिकल दुकान में काम करने वाले जमुना प्रसाद राय का बोकारो के बैदमारा में ननिहाल है। ननिहाल के पड़ोस में रहने वाली मधु से उसको प्यार हो गया। आठ जून को वह मधु से शादी रचा कर महिला थाना पहुंचा। उन्होंने बताया कि दोनों के बीच छह साल से प्रेम-प्रसंग चल रहा था। दोनों के घरवालों को थाना तलब किया गया।

गुमशुदगी या अपहरण की जड़ में लव अफेयर

धनबाद में लड़की की गुमशुदगी का मामला हो या फिर अपहरण का। पुलिस सबसे पहले ऐसे मामलों में प्यार-मोहब्बत के एंगल से ही जांच शुरू करती है। गुमशुदगी के 95 प्रतिशत मामलों की जड़ में प्यार ही रहता है। युवतियों के अपहरण के मामले तो शत प्रतिशत प्रेम से ही जुड़े रहते हैं। पिछले साल अपहरण की धारा में दर्ज सभी 44 मामले लव मैरिज के निकले। इस साल जनवरी से मई के बीच 18 अपरहण के मामलों का निष्कर्ष लव अफेयर रहा। लॉकडाउन में हर दिन प्रेमी जोड़ा शादी रचा कर महिला थाना पहुंच रहे हैं।

संबंधित खबरें