DA Image
11 जनवरी, 2021|1:09|IST

अगली स्टोरी

झारखंड पुलिस मेरी मुट्ठी में, मेरा कुछ नहीं कर पाओगे

झारखंड पुलिस मेरी मुट्ठी में, मेरा कुछ नहीं कर पाओगे

तेतुलतल्ला के बादल गौतम पर अपहरण, दुष्कर्म और रुपए व गहने छीनने का आरोप लगानेवाली रिटायर बीसीसीएल अधिकारी की पुत्री गुरुवार को मीडिया से मुखातिब हुई। प्रेमी संकेत कृष्णानी और पीड़ित महिला ने बादल गौतम और उसके सहयोगियों के खिलाफ आरोपों की झड़ी लगा दी। कहा कि बादल हमेशा झारखंड के आईपीएस अधिकारियों से बातचीत करने की बात कह कर उन्हें डराया करता था।

महिला ने बताया कि दुष्कर्म के बाद बादल ने उसे धमकाते हुए कहा कि तुमलोग मेरा कुछ नहीं बिगाड़ सकते। झारखंड के कई आईपीएस और पूरी पुलिस फोर्स मेरी मुट्ठी में है। वह अक्सर बड़े पुलिस अधिकारियों के साथ की अपनी तस्वीर दिखाता था। उसने मुझसे मेरे पिता के खिलाफ जो आवेदन साइन कराया था, उसमें बताया गया था कि मैं और कृष्णानी धनबाद आकर उसके घर तेतुलतल्ला गए थे, जबकि सच्चाई यह है कि कोलकाता से निकलने से पहले ही बादल ने पूरी योजना बना ली थी। सबकुछ उसकी योजना के अनुसार चल रहा था। पैसे और गहने को बड़े ही चालाकी से लेना भी उसकी चाल का हिस्सा था। कोलकाता से उन लोगों को लेकर वह जामताड़ा पहुंचा। वहां एक बड़े पुलिस अधिकारी से मिलने की बात कह कर वह निकला। ताकि उन्हें विश्वास हो जाए कि उसके कॉन्टेक्ट बड़े लोगों से हैं। बाद में कोलकाता में कृष्णानी के खिलाफ अपहरण का मुकदमा दर्ज होने की बात कहते हुए वह बचाने की बात कहने लगा। कोलकाता से निकलने के बाद से ही उसकी बुरी नियत उन पर थी, जिसे वह नहीं भांप पाई।

रिटायर बीसीसीएल अधिकारी की पुत्री ने बताया कि बादल ने उसे दोनों बच्चों को पति से दिलाने की बात कह कर भी झांसे में लिया। कृष्णानी ने बताया कि बादल से उसके करीब 15 साल से जान-पहचान थे। वह हमेशा पुलिस अधिकारियों और बड़े लोगों से संपर्क की बात बताता था। अक्सर आईपीएस अधिकारी को फोन लगा कर बातचीत करने की बात कहता था। इसलिए वे लोग धोखे में आ गए। इधर बैंक मोड़ पुलिस ने बादल गौतम की खोजबीन तेज कर दी है। वह अपने घर पर नहीं है और अपना मोबाइल भी बंद कर दिया है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Jharkhand Police in my grasp you will not be able to do anything to me