DA Image
27 अक्तूबर, 2020|11:15|IST

अगली स्टोरी

कोरोना से लड़ाई को विदेश से आईआईटीयन भेज रहे पैसा

default image

कोरोना से लड़ाई में आईआईटी आईएसएम के पूर्ववर्ती छात्र-छात्राएं भी अपना योगदान दे रहे हैं। विदेश में रहकर विभिन्न कंपनियों में काम करनेवाले पूर्ववर्ती छात्र-छात्राएं संस्थान के माध्यम से अब तक 84.07 लाख रुपए भेज चुके हैं। पूर्ववर्ती छात्रों, शिक्षकों व अधिकारियों समेत कर्मियों के पैसों को मिलाकर आईआईटी धनबाद ने पीएम केयर फंड में 1.10 करोड़ रुपए जमा कराए हैं।

सबसे महत्वपूर्ण यह है कि कोरोना के कारण अमेरिका भी संकट में है। अमेरिका में रहनेवाले आईआईटी आईएसएम अमेरिका नॉर्थ चैप्टर ने 51 लाख रुपए दिया है। इन छात्रों का मानना है कि भारत में प्रभावित क्षेत्रों में इस पैसे का सुदपयोग किया जाए। 1989 बैच ने 30.5 लाख रुपए भेजा। मलेशिया, कुवैत व अन्य देशों में रहनेवाले छात्रों ने भी दिया योगदान है।

पूर्ववर्ती छात्रों का कहना है कि पीएम केयर्स फंड में संस्थान की ओर से अधिक से अधिक भागीदारी हो। एक पूर्ववर्ती छात्र युगल किशोर गुप्ता ने कम्युनिटी किचन संचालन के लिए सवा तीन लाख रुपए दिए। इससे पूर्व आईआईटी के शिक्षकों व अधिकारियों ने 25 लाख तथा कर्मचारियों की ओर से डेढ़ लाख रुपए भेजे गए थे। संस्थान की ओर से अब तक 1.10 करोड़ रुपए पीएम केयर्स फंड में भेजा गया है। आईआईटी के पूर्ववर्ती छात्रों ने कोरोना में ऑनलाइन क्लास के लिए भी संस्थान को पैसा भेजा है। एक ऑनलाइन क्लास को तैयार करने में 18 लाख रुपए खर्च होंगे। पूर्ववर्ती छात्रों का कहना है कि कोरोना के कारण अब अधिक से अधिक ऑनलाइन क्लास ही होंगे। अभी सात स्मार्ट क्लास रूम तैयार किया जाएंगे।

अब तक विदेश में रहनेवाले पूर्ववर्ती छात्रों ने 84.07 लाख रुपए भेजे हैं। आईआईटी आईएसएम अपने पूर्ववर्ती छात्रों को इसके लिए आभार प्रकट करता है। अब तक संस्थान की ओर से 1.10 करोड़ रुपए से अधिक पीएम केयर्स फंड में भेज चुके हैं।

- प्रो. धीरज कुमार, डीन इंटरनेशनल रिलेशन

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:IITians from abroad are sending money to fight with Corona