DA Image
19 अक्तूबर, 2020|3:26|IST

अगली स्टोरी

छठ से पहले गंगा दामोदर व मौर्य नहीं चली तो बढ़ेगी परेशानी

default image

धनबाद से पटना के बीच चलने वाली गंगा दामोदर एक्सप्रेस और धनबाद होकर चलनेवाली मौर्य एक्सप्रेस के बिना नवरात्रि तो किसी तरह बीत रहा है लेकिन छठ पूजा में भी यदि ट्रेनें नहीं चलीं तो धनबाद के लोगों को भारी परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है। कोरोना के कारण धनबाद से खुलने और धनबाद होकर गुजरने वाली बिहार की ट्रेनों को रेलवे तवज्जो नहीं दे रहा है। रेलवे की तरफ से कहा जा रहा है कि राज्य सरकार की स्वीकृति नहीं मिलने के कारण ट्रेनें नहीं चल रही हैं।

धनबाद रेल मंडल ने धनबाद-पटना गंगा दामोदर एक्सप्रेस को चलाने के लिए कई बार रिमाइंडर भेजा है, लेकिन राज्य सरकार की हरी झंडी के बिना ट्रेन को चलाने की मंजूरी नहीं मिल रही है। धनबाद होकर चलने वाली बिहार की प्रमुख ट्रेन धनबाद-पटना एक्सप्रेस, मौर्य एक्सप्रेस, रांची-जयनगर एक्सप्रेस, वनांचल एक्सप्रेस, रांची-पटना एक्सप्रेस और धनबाद-गया इंटरसिटी ट्रेनों के चलने का लोग बेसब्री से इंतजार कर रहे हैं। दीपावली से छठ के बीच इन ट्रेनों में हर वर्ष लंबी वेटिंग रहती है। इस साल 14 नवंबर को दिवाली है। यानी 15 से 18 नवंबर के बीच धनबाद से खुलने और यहां से गुजरने वाली बिहार की ट्रेनों की नितांत आवश्यकता है। पिछले दिनों जारी सूची में रेलवे बोर्ड ने रांची-जयनगर एक्सप्रेस और वाया गोमो चलने वाली रांची-पटना जनशताब्दी को भी शामिल किया है लेकिन इन दोनों ट्रेनों की तिथि की भी घोषणा अभी तक नहीं की गई।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:If Ganga Damodar and Maurya do not run before Chhath trouble will increase