DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

चला अभियान, वाहनों से उतरवाए बंपर गार्ड

चला अभियान, वाहनों से उतरवाए बंपर गार्ड

शहर में सोमवार को कार के आगे और पीछे बंपर गार्ड लगाने वालों के खिलाफ अभियान चलाया गया। डीटीओ पंकज कुमार साव और ट्रैफिक डीएसपी अशोक कुमार तिर्की ने बंपर गार्ड लगे वाहनों के खिलाफ अभियान चलाया। वहीं जिके आला अधिकारियों की गाड़ियों में लगे बंपर गार्ड ज्यों के ज्यों बने हैं। अभियान में किसी अधिकारी के वाहनों से बंपर गार्ड नहीं उतारा गया। एक तरफा कार्रवाई अभियान पर प्रश्न खड़ा कर रहा है। अफसर नियमों की अवहेलना कर रहे हैं और कोई कार्रवाई नहीं हो रही है। पूजा टॉकीज के पास कार्रवाई कर पुलिस ने 40 वाहनों के बंपर गार्ड उतरवाए। डीटीओ ने बताया कि पहले दिन की कार्रवाई में बंपर गार्ड उतरवा कर हिदायत देकर छोड़ दिया गया। एक से भी जुर्माना नहीं वसूला गया। अगली बार पकड़े जाने पर 15 सौ रुपए जुर्माना वसूला जाएगा।

सोशल मीडिया पर भी तस्वीरें वायरल

बंपर गार्ड लेगे सरकारी अधिकारियों के वाहनों की तस्वीरें सोशल मीडिया पर वायरल हैं। बंपर गार्ड हटाने की कार्रवाई की एक ओर सराहना की जा रही है तो दूसरी ओर अधिकारियों की गाड़ियों को इससे अलग रखने पर सवाल खड़े किए जा रहे हैं। वाट्स एप से लेकर फेसबुक तक अधिकारियों की बंपर गार्ड लगी गाड़ियों की तस्वीर को शेयर किया जा रहा है। इस पर तरह-तरह की कॉमेंट्स भी दिए जा रहे हैं।

क्या है नुकसान

बंपर गार्ड लगे वाहनों में एक्सीडेंट के दौरान एयरबैग का बाहर निकलना रुक सकता है। बाहरी टक्कर से एयरबैग का सेंसर काम नहीं करता और एयरबैग बाहर नहीं निकल पाता, जिससे कार के अंदर बैठे लोगों को गंभीर चोट लगती है। लोग बाहरी नुकसान से बचने के लिए बंपर लगाते हैं, लेकिन दुर्घटना के दौरान बंपर गार्ड से कार के अंदरुनी भाग को ज्यादा नुकसान होता है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:DTO-DSP lifted bumper guards from the vehicles of the people