DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

डीएलएड की जांच शुरू, शपथ पत्र जमा कर रहे अप्रशिक्षित शिक्षक

धनबाद में एनआईओएस के तहत डीएलएड कर रहे अप्रशिक्षित शिक्षकों की जांच शुरू हो गई है। राज्य सरकार के निर्देश पर जिला कार्यालय ने सभी अभ्यर्थियों से शपथ पत्र देने को कहा है। निर्देश मिलने के बाद अप्रशिक्षित शिक्षकों ने शपथ पत्र जमा करना शुरू कर दिया है। शपथ पत्र जमा होने के बाद विभाग की ओर से जांच की जाएगी। धनबाद में यू डायस में पूर्व में जमा आंकड़ों के अनुसार 638 अप्रशिक्षित शिक्षक थे। डीएलएड की घोषणा होने के बाद धनबाद में अप्रशिक्षित शिक्षकों की संख्या बढ़कर पांच हजार पहुंच गई। राज्य के अन्य जिलों में भी यह आंकड़ा बढ़ गया। पिछले दिनों समीक्षा में स्कूली शिक्षा व साक्षरता विभाग के प्रधान सचिव अमरेन्द्र कुमार सिंह ने जांच का आदेश दिया है। उसके बाद यह कवायद शुरू हुई। चर्चा है कि कई स्कूलों ने तो बाहरी लोगों को भी अपने स्कूल का अप्रशिक्षित शिक्षक बताकर डीएलएड में रजिस्ट्रेशन करवा दिया। इसकारण संख्या सात से आठ गुना बढ़ने की बात सामने आ रही है।

आज से शुरू होगी 11 केन्द्रों में डीएलएड प्रथम वर्ष परीक्षा

डीएलएड प्रथम वर्ष परीक्षा गुरुवार को जिले के 11 केन्द्रों में शुरू होगी। जिला प्रशासन व शिक्षा विभाग ने इस संबंध में तैयारी पूरी कर ली है। दंडाधिकारी व पुलिसबल की तैनाती की जा रही है। परीक्षा केन्द्रों में आइएसएल झरिया, किड्स एंजल पब्लिक स्कूल, रॉयल हाई स्कूल, सविता इंटरनेशनल स्कूल झरिया, मिशन ऑफ नॉलेज चीरागोड़ा, ईस्ट एंड वेस्ट कान्वेंट, बीएलएन पब्लिक स्कूल, माउंड ब्रेसिया, एसएस सूर्यदेव सिंह स्मृति गुरुकुलम, राजेन्द्र बालिका उच्च विद्यालय, किड्स गार्डेन सेकेंडरी स्कूल झरिया शामिल है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:DLAD scrutinizes, untrained teacher depositing affidavits