DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

डिगवाडीह: अपराधियों ने किया बीओआई का एटीएम लूटने का प्रयास

जोड़ापोखर थाना क्षेत्र के डिगवाडीह बाजार स्थित बैंक ऑफ इंडिया का एटीएम अपराधियों ने मंगलवार की रात लूटने का प्रयास किया। लेकिन मकान मालिक के जग जाने से अपराधी भाग खड़े हुए। शक के आधार पर बैंकमोड़ पुलिस ने पांडरपाला से चार युवकों को उठाया है। इसमें पाथरडीह का अनवर उर्फ पप्पू और ईश्वर कुमार शामिल है।

पुलिस सभी हिरासत में लिए गए युवकों से पूछताछ कर रही है। बताया जा रहा है कि घटना की सूचना पाकर सिंदरी डीएसपी प्रमोद केशरी, जोड़ापोखर इंस्पेक्टर जय किशन सहित पुलिस टीम मौके पर पहुंची। फोरेंसिक एक्सपर्ट और स्क्वायड डॉग की भी मदद ली गई। पुलिस एटीएम में लगे सीसीटीवी कैमरे के फुटेज को भी खंगाल रही है।

दरवाजा खुलने की आवाज सुन भागे अपराधी

घटना के बारे में मकान मालिक रमण केशरी ने पुलिस को बताया कि मंगलवार की रात करीब दो बजे वे उठे थे। तभी बाहर से जोरदार आवाज आई। उन्होंने फौरन घर का दरवाजा खोला। दरवाजे की आवाज सुनकर अपराधी भाग खड़े हुए। उन्होंने 100 नंबर पर डायल कर पुलिस को सूचना दी। पुलिस ने दो मिनट में पहुंचने की बात कही। लेकिन काफी देर तक पुलिस नहीं पहुंची। बुधवार की सुबह डीएसपी प्रमोद केशरी बैंक ऑफ इंडिया भूलन बरारी शाखा के अधिकारी दिनकर सिंह को घटना स्थल पर बुलाया। उनसे एटीएम काउंटर में गार्ड नहीं होने का कारण पूछा। सिंह ने कहा कि उक्त एटीएम मनईटांड़ शाखा के अधीन है। सुरक्षा और अन्य चीजों की देख रेख आउटसोर्सिंग के माध्यम से होती है।

प्रमोद कुमार केशरी, सिंदरी डीएसपी:

इस घटना को लेकर बैंक प्रबंधन की लापरवाही उजागर होती है। सुरक्षा प्रहरी आवश्यक है। पुलिस अपराधियों को जल्द से जल्द पकड़ने का काम करेगी।

एटीएम में नहीं तैनात हैं गार्ड:

बताते हैं कि घटना स्थल के समीप ही कई बैंकों के एटीएम लगे हुए हैं। उक्त एटीएम भी 24 घंटे खुले रहते हैं। लेकिन यहां भी गार्ड नियुक्त नहीं किया गया है। जिससे ये एटीएम भी सुरक्षित नहीं हैं। यहां भी इस तरह की घटना होने से इंकार नहीं किया जा सकता।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Digawadi: criminals try to rob BOI ATMs