ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News झारखंड धनबादकांग्रेसियों ने पूछे सवाल, धनबाद क्यों है बेहाल

कांग्रेसियों ने पूछे सवाल, धनबाद क्यों है बेहाल

प्रधानमंत्री के धनबाद आगमन पर कांग्रेसियों ने धनबाद की जनता से जुड़े मुद्दे के समाधान की मांग की है। धनबाद की कई महत्वपूर्ण योजनाओं को पूरा नहीं...

कांग्रेसियों ने पूछे सवाल, धनबाद क्यों है बेहाल
हिन्दुस्तान टीम,धनबादThu, 29 Feb 2024 01:45 AM
ऐप पर पढ़ें

धनबाद, विशेष संवाददाता
प्रधानमंत्री के धनबाद आगमन पर कांग्रेसियों ने धनबाद की जनता से जुड़े मुद्दे के समाधान की मांग की है। धनबाद की कई महत्वपूर्ण योजनाओं को पूरा नहीं होने के लिए भाजपा को ही जिम्मेवार ठहराया है। बुधवार को कांग्रेस की ओर से संवाददाता सम्मेलन का आयोजन किया गया। जिलाध्यक्ष संतोष सिंह ने कहा कि धनबाद बेहाल है। इसके लिए भाजपा जिम्मेवार है। संवाददाता सम्मेलन का आयोजन कांग्रेस जिला कार्यालय हाउसिंग कॉलोनी में किया गया।

जिलाध्यक्ष ने कहा कि राज्य में लंबे समय तक डबल इंजन की सरकार रही है। रघुवर सरकार में वादा किया गया था कि गया पुल के निकट एक और अंडरपास बनेगा। एक फ्लाईओवर बनाने की भी घोषणा की गई थी। दोनों योजनाओं को अब तक धरातल पर नहीं उतारा गया है। सबसे अधिक राजस्व देने वाले धनबाद रेलवे की भी लगातार उपेक्षा हो रही है। स्टेशन के सौंदर्यीकरण तथा विस्तारीकरण का काम अब तक शुरू नहीं हुआ। इसके बाद भी धनबाद के सांसद लोकसभा में कोई प्रश्न नहीं उठाते हैं। जिलाध्यक्ष ने सवाल किया हैं कि डीसी रेल लाइन पर फिर से एक बार बंदी की तलवार लटक रही हैं जबकि नए रूट बनाने की घोषणा चार साल पहले ही की गई थी, लेकिन अब तक कोई पहल नहीं की गई है।

पुनर्वास की भी नहीं हुई व्यवस्था

जिलाध्यक्ष ने कहा कि झरिया-कतरास तथा उसके आसपास के इलाकों में अग्नि तथा भू-धंसान प्रभावित परिवारों के पुनर्वास की योजना की गति भी धीमी है। बीसीसीएल ने रैयतों की जमीन ले रखी है। आउटसोसर्सिंग कंपनियों को कोयला निकालने का काम दे दिया गया है। रैयतों की जमीन पर ओबी (ओवरबर्डेन) का पहाड़ बना दिया जा रहा है। रैयतों को न को मुआवजा मिल रहा है और न ही नौकरी दी जा रही है। समतलीकरण कर जमीन भी रैयतों को नहीं लौटाई जा रही है।

संतोष ने सवाल किया कि देश के प्रथम प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरू द्वारा स्थापित सिंदरी एफसीआई को 2002 में भाजपा सरकार ने ही बंद किया था। उसी एफसीआई की जमीन पर हर्ल के नाम से केंद्र सरकार ने दूसरी कंपनी के नाम से खाद कारखाना खुलवा दिया। इसमें नया क्या किया गया। धनबाद की लोगों को लंबे समय से मांग है कि यहां आधुनिक हवाईअड्डा खोला जाए। प्रधानमंत्री से हमारी मांग है कि हवाईअड्डा खुलने की घोषणा की जाए। मौके पर जिला कांग्रेस उपाध्यक्ष राजेश्वर सिंह यादव, मधुसूदन सिंह चौधरी भी थे।

यह हिन्दुस्तान अखबार की ऑटेमेटेड न्यूज फीड है, इसे लाइव हिन्दुस्तान की टीम ने संपादित नहीं किया है।
हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें