DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   झारखंड  ›  धनबाद  ›  बरसात से पहले ही खतरनाक हुईं शहर की सड़कें

धनबादबरसात से पहले ही खतरनाक हुईं शहर की सड़कें

हिन्दुस्तान टीम,धनबादPublished By: Newswrap
Tue, 01 Jun 2021 05:10 AM
मानसून दस्तक देने वाली है, लेकिन उससे पहले ही शहर की सड़कों की सूरत बिगड़ गई है। यास तूफान की वजह से एक हफ्ते हुई बारिश के बाद शहर की सड़कों पर...
1 / 3मानसून दस्तक देने वाली है, लेकिन उससे पहले ही शहर की सड़कों की सूरत बिगड़ गई है। यास तूफान की वजह से एक हफ्ते हुई बारिश के बाद शहर की सड़कों पर...
मानसून दस्तक देने वाली है, लेकिन उससे पहले ही शहर की सड़कों की सूरत बिगड़ गई है। यास तूफान की वजह से एक हफ्ते हुई बारिश के बाद शहर की सड़कों पर...
2 / 3मानसून दस्तक देने वाली है, लेकिन उससे पहले ही शहर की सड़कों की सूरत बिगड़ गई है। यास तूफान की वजह से एक हफ्ते हुई बारिश के बाद शहर की सड़कों पर...
मानसून दस्तक देने वाली है, लेकिन उससे पहले ही शहर की सड़कों की सूरत बिगड़ गई है। यास तूफान की वजह से एक हफ्ते हुई बारिश के बाद शहर की सड़कों पर...
3 / 3मानसून दस्तक देने वाली है, लेकिन उससे पहले ही शहर की सड़कों की सूरत बिगड़ गई है। यास तूफान की वजह से एक हफ्ते हुई बारिश के बाद शहर की सड़कों पर...

धनबाद प्रमुख संवाददाता

मानसून दस्तक देने वाला है, लेकिन उससे पहले ही शहर की सड़कों की सूरत बिगड़ गई है। यास तूफान की वजह से एक हफ्ते हुई बारिश के बाद शहर की सड़कों पर खतरनाक गड्ढे बन गए हैं। कुछ गड्ढे नए बने तो कुछ पुराने वाले और खतरनाक हो गए हैं।

मानसून से पहले हर बार टूटी सड़कों की मरम्मत की योजना पर काम होता था, लेकिन इस बार ऐसा कुछ देखने को नहीं मिल रहा है। कोविड की वजह से लगातार राज्य में विकास के काम ठप पड़े हैं। लेकिन परिवहन व्यवस्था चालू रहने की वजह से सड़कों की स्थिति लगातार खराब होती जा रही है।

टूटी सड़कों से गुजरता है माननीय से लेकर बड़े अधिकारियों का काफिला

शहर की जिन टूटी सड़कों पर लोग फिसल रहे हैं, उन्हीं सड़कों पर जिले के माननीयों से लेकर बड़े प्रशासनिक अधिकारियों का काफिला गुजरता है। लेकिन इन गड्ढों पर इनकी लग्जरी गाड़ियां हिचकोले नहीं खाती हैं और न ही इनकी नजर पड़ती है।

इन सड़कों पर चलना खतरनाक

धनबाद-कतरास आठ लेन सड़क : शहर की गोल बिल्डिंग से कतरास के काको मोड़ तक बन रही आठ लेन सड़क खतरनाक हो गई है। सड़क तो बन रही है लेकिन पुरानी सड़क की मरम्मत नहीं हो रही। रॉयल बाजार के आगे गड्ढे खतरनाक हो गए, लेकिन साज के इंजीनियरों का इसपर ध्यान नहीं। यह सड़क किसी बड़े हादसे का इंतजार कर रही है।

श्रमिक चौक-पूजा टॉकिज सड़क : श्रमिक चौक से आगे पूजा टॉकिज की ओर बढ़ने पर बीच सड़क पर बड़ा सा गड्ढा हो गया है। तेज गति से आनेवाले बाइक सवार यहां गिरते-गिरते बच रहे हैं। लेकिन विभाग को इस गड्ढे को भरने में दिलचस्पी नहीं है।

भूली मोड़-वासेपुर सड़क: भूली मोड़ की शुरुआत ही सड़कों पर गड्ढे से होती है। हर बार सड़क बनाने की घोषणा हुई लेकिन सिर्फ कागजों पर ही रह गई। बरसात में यहां के गड्ढे और खतरनाक हो गए हैं।

धनबाद-झरिया-सिंदरी सड़क जानलेवा

धनबाद-झरिया-सिंदरी मार्ग पर बने गड्ढे काफी खतरनाक हो गये हैं। आये दिन दुर्घटना हो रही है। बस्ताकोला के पास की सड़क सबसे ज्यादा खतरनाक हो गई है। इसके अलावा झरिया चार नंबर, भागा रोड़, धर्मशाला रोड आदि जगहों की सड़कें भी खतरनाक हो गई हैं। डिनोबिली मोड़ के पास भी सड़क की यही स्थिति है।

दिलीप कुमार साह, कार्यपालक अभियंता पथ निर्माण विभाग धनबाद : सड़क मरम्मत के लिए विभाग के पास फंड उपलब्ध है। जल्द ही इसका टेंडर निकाल कर 15 दिनों के अंदर मरम्मत करा दी जाएगी।

संबंधित खबरें