अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

वासेपुर में एक और गैंगवार ने दी दस्तक

रविवार की देर रात वासेपुर के पप्पू खान उर्फ पप्पू पाचक को गोली मारने से वासेपुर में एक और गैंगवार ने दस्तक दे दी है। लहूलुहान पप्पू को लेकर उपचार के लिए दौड़ रहे समर्थकों के चेहरों पर भारी गुस्सा था। घायल अवस्था में पप्पू को लेकर अस्पताल पहुंचे समर्थक चिल्ला-चिल्लाकर कह रहे थे कि अब वासेपुर का नया इतिहास लिखा जाएगा।
समर्थक बोले- भाईजान को गोली मारकर अच्छा नहीं किया, इसका अंजाम अब भुगतना पड़ेगा। पुराना बाजार में पप्पू खान को गोली लगने के बाद उसके समर्थक उसे उठाकर सेंट्रल हॉस्पिटल ले गए। अस्पताल में भारी संख्या में मौजूद समर्थक बार-बार आक्रोशित हो जा रहे थे। सेंट्रल अस्पताल से दुर्गापुर रेफर होने के बाद एंबुलेंस आने में देरी होने पर समर्थक भड़क गए। समर्थकों ने वहां मौजूद चार-पांच के एंबुलेंस के शीशे तोड़ डाले। कभी मौजूद सुरक्षाकर्मियों पर तो कभी सेंट्रल अस्पताल प्रबंधन को गुस्सा दिखा रहे थे। सेंट्रल अस्पताल द्वारा हाथ खड़े करने के बाद कुछ समर्थक उसे जालान में भर्ती कराना चाह रहे थे। इसी बीच एक समर्थक ने कहा कि वहां हंगामा मत करना नहीं तो भाईजान को भर्ती तक  नहीं करेंगे।
पुलिस सूत्रों का कहना है कि फहीम गुट से समय-समय पर टकराने वाले पप्पू खान को गोली मारने की घटना का परिणाम आने वाले समय पर दिखेगा। मालूम हो कि 2008 में पप्पू खान के भाई गयास खान की लाश सिंघाड़ा तालाब में मिली थी। हत्या का आरोप वासेपुर के गैंगेस्टर फहीम खान पर लगा था।  ईद से पहले वासेपुर का माहौल खराब हो गया है। चांदरात को वासेपुर के पप्पू खान को गोली लगने से इलाके का माहौल भी दहशत भरा हो गया है। एक दिन बाद ईद है। ऐसे में ईद से पहले वासेपुर का माहौल खराब हो गया है।

 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Another gangwier gave the knock at Wasseypur