ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News झारखंड धनबादसिर में चोट और गर्दन ही हड्डी टूटने से हुई चारों की मौत

सिर में चोट और गर्दन ही हड्डी टूटने से हुई चारों की मौत

धनबाद, प्रमुख संवाददाता। बरवाअड्डा में जीटी रोड पर मंगलवार की रात सड़क दुर्घटना में मारे गए चार युवकों के सिर में गंभीर चोट लगी थी और सभी की गर्दन...

सिर में चोट और गर्दन ही हड्डी टूटने से हुई चारों की मौत
default image
हिन्दुस्तान टीम,धनबादThu, 20 Jun 2024 02:45 AM
ऐप पर पढ़ें

धनबाद, प्रमुख संवाददाता। बरवाअड्डा में जीटी रोड पर मंगलवार की रात सड़क दुर्घटना में मारे गए चार युवकों के सिर में गंभीर चोट लगी थी और सभी की गर्दन की हड्डी टूट गई थी। इसी को उनकी मौत का कारण बताया जा रहा है। कार चला रहे राहुल गुप्ता की छाती की पसलियां भी टूट गई थीं। शवों के पोस्टमार्टम में यह खुलासा हुआ है। पोस्टमार्टम के बाद सभी शव को परिजनों को सौंप दिया गया। बता दें कि मंगलवार की रात 11.30 बजे बरवाअड्डा के पास जीटी रोड पर रॉन्ग साइड से जा रही कार में ट्रक ने टक्कर मार दी थी। घटना में कार सवार जोड़ाफाटक के शक्ति मंदिर निवासी राहुल गुप्ता, बेलगड़िया के न्यू कॉलोनी निवासी विशाल पासवान, आनंद कुमार और संकेत वर्मा की मौके पर ही मौत हो गई। कार में सवार झरिया निवासी अमन गुप्ता घायल हो गए हैं। राहुल रांगाटांड़ में चूड़ी की दुकान चलाते थे और बाकी चारों उनके यहां काम करते थे। मंगलवार की रात नौ बजे दुकान बंद कर सभी कार से जीटी रोड स्थित किसी होटल में गए। वापसी में रॉन्ग साइड से आ रही कार में ट्रक ने टक्कर मार दी थी। टक्कर इतनी जोरदार थी कि कार के परखच्चे उड़ गए। सभी कार के अंदर फंस गए थे। उन्हें निकालने के लिए कार को काटना पड़ा था। इसके बाद सभी को धनबाद मेडिकल कॉलेज अस्पताल ले जाया गया, जहां इमरजेंसी में डॉक्टरों को चार को मृत घोषित कर दिया था। बुधवार की दोपहर सभी शवों का पोस्टमार्टम किया गया। सभी के शरीर में अल्कोहल के अंश मिले हैं। अंदाजा है कि तेज रफ्तार कार का ऊपरी हिस्सा ट्रक से टकराकर टूट गया। इस कारण चार लोगों के सिर में चोट आई और उनकी गर्दन की हड्डी टूट गई। स्टीयरिंग से चोट लगने के कारण कार चला रहे राहुल की छाती की पसलियां भी टूट गई हैं। चारों के शरीर में जख्म के कई और निशान भी मिले हैं।

मृतकों में दो नाबालिग: बरवाअड्डा दुर्घटना में चूड़ी कारोबारी राहुल गुप्ता के साथ मारे गए विशाल पासवान और आनंद कुमार नाबालिग थे। विशाल की उम्र सिर्फ 15 वर्ष और आनंद कुमार की सिर्फ 14 वर्ष थी। चौथा मृतक संकेत वर्मा भी सिर्फ 20 वर्ष का था। अपने परिवार की खराब आर्थिक स्थिति के कारण तीनों चूड़ी दुकान में काम करते थे। राहुल की उम्र 36 वर्ष थी।

अमन एशियन जालान में भर्ती: राहुल गुप्ता की कार में सवार पांच लोगों में झरिया निवासी जगदीश गुप्ता का 24 वर्षीय बेटा अमन गुप्ता भी था। वह जीवित बचने वाला एकमात्र युवक है। उसका इलाज एशियन जालान में चल रहा है। डॉक्टरों के अनुसार दुर्घटना के शिकार अमन की नाक की हड्डी टूट गई है। उसकी स्थिति खतरे से बाहर है।

यह हिन्दुस्तान अखबार की ऑटेमेटेड न्यूज फीड है, इसे लाइव हिन्दुस्तान की टीम ने संपादित नहीं किया है।