DA Image
28 नवंबर, 2020|8:06|IST

अगली स्टोरी

दुर्गापूजा के बाद रेलवे मान्यता चुनाव के लिए होगा घमासान

default image

दुर्गापूजा संपन्न होते ही देश में रेलवे यूनियन मान्यता चुनाव के लिए घमासान शुरू हो जाएगा। मतदाता सूची को अंतिम रूप देने संबंधी आदेश के साथ रेलवे बोर्ड ने चुनाव की रणभेरी बजा दी है। फेडरेशनों का मानना है कि चार और पांच दिसंबर को झंडा को मान्यता देने के लिए बैलेट से गुप्त मतदान होंगे। डेढ़ साल से यूनियनें इस चुनाव की राह देख रही हैं।

रेलवे बोर्ड ने सभी रेल मंडलों को आदेश दिया है कि वे पांच नवंबर तक मतदाता सूची का प्रकाशन कर दें। ईस्ट सेंट्रल रेलवे में कर्मचारियों के प्रतिनिधित्व के लिए पांच यूनियनें चुनाव में ताल ठोकने की तैयारी में जुटी हैं। इसमें वर्तमान में मान्यता प्राप्त यूनियन ईस्ट सेंट्रल रेलवे कर्मचारी यूनियन के अलावा ईस्ट सेंट्रल रेलवे मेंस कांग्रेस, पूर्व मध्य रेलवे मजदूर संघ, ईस्ट सेंट्रल रेलवे मजदूर यूनियन और ईस्ट सेंट्रल रेलवे इम्प्लाइज यूनियन शामिल हैं। दरअसल जोन के 79 हजार कर्मचारियों के मतों के आधार पर ही यह तय होगा कि अगले छह साल कौन से यूनियन के पदाधिकारी कर्मचारियों का प्रतिनिधित्व करेंगे। ईसीआर में धनबाद के अलावा दानापुर, मुगलसराय, सोनपुर, समस्तीपुर और मुख्यालय हाजीपुर के कर्मचारी यूनियन का भाग्य तय करेंगे।

2013 में किस यूनियन को आए थे कितने वोट

ईस्ट सेंट्रल रेलवे कर्मचारी यूनियन को जोन 23612 और धनबाद मंडल में 6643, ईस्ट सेंट्रल रेलवे मेंस कांग्रेस को जोन में 16919 और यहां 4118, ईस्ट सेंट्रल रेलवे मजदूर यूनियन को जोन में 9388 और धनबाद में 1887, ईस्ट सेंट्रल रेलवे इंप्लाईज यूनियन को जोन में 5874 और धनबाद में 2014 तथा पूर्व मध्य रेल मजदूर संघ को जोन में 3559 और डिवीजन में 969 मत मिले थे।

13 नवंबर को है ईसीआरकेयू का सांगठनिक चुनाव

मान्यता चुनाव से पहले ईस्ट सेंट्रल रेलवे कर्मचारी यूनियन की केंद्रीय सांगठनिक चुनाव की भी तिथि रखी गई है। दीपावली से एक दिन पहले 13 नवंबर को पटना में केंद्रीय कार्यकारिणी के अध्यक्ष, दो कार्यकारी अध्यक्ष, पांच उपाध्यक्ष, एक महासचिव सहित 22 पदों के लिए चुनाव होना है। ऐसे तो कार्यकारिणी का कार्यकाल पिछले साल ही पूरा हो चुका है लेकिन यूनियन मान्यता चुनाव को लेकर चुनाव टल जा रहे थे। पटना में 11, 12 और 13 नवंबर को कार्यकारिणी की बैठक सह आम सभा रखी गई है। चुनाव में प्रत्याशी बनने के लिए चार नवंबर तक नोमिनेशन होना है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:After Durga Puja there will be a fierce battle for railway recognition election